नवदम्पतियों को परिवार नियोजन के लिए बांटे गए लिफाफे

रायपुर 26 फरवरी 2020। राजधानी के साईंस कालेज  मैदान में आयोजित मुख्यमंत्री कन्या विवाह समारोह में नव दंपतियां एक-दूसरे का साथ देने का वादा करते हुए परिणय सू़त्र में बंधे। धरसींवा के लोकेश और धनेश्वरी ने इस मौके पर मुख्यमंत्री के साथ सेल्फी ली। इस मौके पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और महिला एवं बाल विकस मंत्री श्रीमति अनिला भेंडिया सहित अधिकारियों ने भी वर वधुओं की विवाह के रस्म पूरा होने पर मंगल कामना करते हुए आशीर्वाद दिया। जिला स्वास्थ्य समिति के अध्यक्ष एवं कलेक्टर डाॅ एस भारतीय दासन के निर्देश पर मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डाॅ मीरा बघेल द्वारा नव दम्पतियों को शुभकामना संदेश देते हुए विवाह समारोह में नीले और गुलाबी रंग के लिफाफे बांटे गए। नव दम्पतियों को लिफाफे में परिवार नियोजन के अस्थायी साधन अपनाने के लिए कंडोम के साथ शुभकामना संदेष का पत्र भी दिए गए। सीएमएचओ डा बघेल ने बताया, शादी के साथ 518 नव दम्पतियों को तत्काल परिवार नियोजन अपनाने के लिए नई पहल की गई है। इससे शादी के बाद महिलाओं को परिवार के साथ खुद की सेहत का ख्याल रखने की जिम्मेदारी निभाने के साथ हेल्दी बेबी के जन्म के पूर्व की तैयारी करने की बात कही गयी। ताकि नए मेहमान के आने के पहले मां पूरी तरीके से तैयार हो। इससे स्वस्थ्य परिवार के साथ स्वस्थ बच्चा हो सकेगा। डाॅ बघेल ने बताया, समाज में पुराने रिती रिवाज की वजह से शादी होने के सालभर के भीतर ही बच्चे को जन्म देने की परम्परा ग्रामीण इलाकों में आज भी जारी है। अब गर्भ ठहरने से पहले प्लान होने से परिवार में नव वधु को तालमेल बैठाने के साथ बच्चे के देखभाल की जानकारी पूरी तरह से मिल जाती है।

     लिफाफे में रखे पत्र पर लिखा है:                          

नवदम्पतियों आशीर्वाद।

      आप दोनों के जीवन का यह एक नया पडाव है जिसमें आप दोनों को सामंजस्य बना के जीना है। आप भावी माता पिता भी हैं। आने वाले नये मेहमान को दुर्घटना मत बनाइये, बल्कि उसे इस दुनिया में पूरी तैयारी के साथ लाइये।  जिस प्रकार जमीन या गमले में एक बीज बोने से पहले हम मिटटी, खाद, पानी का ध्यान रखते हैं उसी प्रकार यदि गर्भधारण से पहले पति पत्नी भी अपने षरीर को तैयार कर लें तो निश्चित रुप से एक स्वस्थ्य, सुंदर और बुद्विमान बच्चा आयेगा।

      अपने खून की जांच करवा लें, मां की उम्र कम से कम 21 से 22 वर्ष हो जाये, गर्भधारण से पहले पति पत्नी दोनों फोलिक एसिड की गोलियां 3 माह तक खायें, समय-समय पर चिकित्सक की सलाह लें और 1 से 2 वर्ष गर्भ निरोधक साधन अपनायें।

         शुभकामनाओं सहित, पत्र कलेक्टर एवं अध्यक्ष जिला स्वास्थ्य समिति,जिला रायपुर की ओर से दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.