Income tax raid: रायगढ़ में चार करोड़ और जगदलपुर में दस करोड़ रुपये सरेंडर

Income tax raid: रायगढ़ में चार करोड़ और जगदलपुर में दस करोड़ रुपये सरेंडर

छत्तीसगढ़ की सियासत में खलबली मचा देने वाली आयकर विभाग की कार्यवाही में राजनीतिज्ञों, बड़े नौकरशाहों और रियल स्टेट, शराब के बड़े कारोबारियों के ठिकानों पर छापे के साथ ही कुछ और लोगों के ठिकानों की जांच की खबर आ रही है। 

इस संबंध में मिली जानकारी के अनुसार छापे के दौरान छत्‍तीसगढ़ के बस्तर संभाग के जगदलपुर में करीब 10 करोड़ रुपये और सरगुजा संभाग के रायगढ़ में करीब चार करोड़ रुपये की कर चोरी पकडे जाने की खबर है। दोनों स्थानों से 14 करोड़ रुपये सरेंडर(जमा) कराए गए। हालांकि अभी आयकर विभाग ने इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है।

आयकर विभाग की व्यावसायिक ठिकानों पर कार्रवाई

खबर है कि जगदलपुर में दो दिन पहले पहुंची आयकर विभाग की टीमों ने स्थानीय प्रकाश हार्डवेयर, ठेकेदार रूपेश झा, पैथोलॉजी लैब संचालक डॉ अविनाश चिखलीकर व ठेकेदार गुलजार सिंह के व्यावसायिक ठिकानों पर छापेमार कार्रवाई की थी। शनिवार देर शाम टीम वापस लौटी। दो दिन चली कार्रवाई के दौरान इन व्यवसायियों के तमाम चल-अचल संपत्तियों के दस्तावेजों की जांच की गई। साथ ही आवश्यक दस्तावेज भी अपने साथ ले गई।

बिलासपुर की सागर टेक्सटाइल में जांच

जानकारी के अनुसार इधर रायगढ़ में शहर के सदर बाजार चूड़ी गोदाम स्थित रायगढ़ होजियरी और उनकी फर्म से जुड़ी बिलासपुर की सागर टेक्सटाइल में गुरुवार दोपहर से आयकर विभाग जांच कर रही थी। बिलासपुर व रायगढ के कार्यालय द्वारा किए गए सर्वे में व्यवसायी नवरतनदास बालानी ने चार करोड़ रुपये सरेंडर किए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.