महापौर श्री एजाज ढेबर सहित एमआईसी सदस्यगण गोवा में पांचवे दक्षिण एशियाई शहरी सम्मेलन में सम्मिलित हो रहे

जिवराखन लाल उसारे cggrameen nëws
दक्षिण एशिया के विभिन्न देशों के महापौर एवं अधिकारीगण एकत्र होकर शहरों की व्यवस्था भविष्य में बेहत्तर बनाने मिलकर मंथन कर रहे0
रायपुर – भविष्य मंे दक्षिण एशिया के देशों में बसे शहरों को किस प्रकार सुविधाएं जुटाकर लोगो के जीवन के लिए बहुपयोगी एवं बेहत्तर स्वरूप मे लाने का कार्य व्यवस्थित रूप से किया जा सके। इसे लेकर दक्षिण एषिया के भूटान, श्रीलंका, नेपाल सहित विभिन्न देशों एवं देश के विभिन्न राज्यों के शहरों के प्रथम नागरिक महापौर एवं उनके एमआईसी सदस्यगणों सहित निगमों के अधिकारीगण गोवा में पांचवे दक्षिण एशियाई शहरी सम्मेलन में एकत्र होकर दो दिवसीय दक्षिण एशियाई स्तरीय महत्वपूर्ण आयोजन में जनहित में चर्चा विचार विमर्ष करते हुए आपस में कार्य के अनुभवों का आदान प्रदान करते हुए मंथन कर रहे है।
पांचवे दक्षिण एशियाई शहरी सम्मेलन का आज से प्रारंभ दो दिवसीय महत्वपूर्ण आयोजन में शुभारंभ गोवा के मुख्यमंत्री श्री प्रमोद सावंत ने किया । इस आयोजन में राजधानी रायपुर का नेतृत्व नगर के प्रथम नागरिक श्री एजाज ढेबर कर रहे है एवं उनके साथ निगम एमआईसी सदस्य सर्वश्री सतनाम सिंह पनाग, नागभूषण राव, अजीत कुकरेजा, एमआईसी सदस्य प्रतिनिधि व पूर्व पार्षद श्री राधेष्याम विभार इसमें सम्मिलित हो रहे है। बिरगांव की महापौर श्रीमती अंबिका यदु इस आयोजन में बिरगांव का प्रतिनिधित्व कर रही है।
पांचवे दक्षिण एशियाई शहरी सम्मेलन में दक्षिण एशिया के देशों के शहरों के महापौर, एमआईसी सदस्यगण एवं निगम अधिकारीगण दो दिनों तक लगातार भविष्य में दक्षिण एशिया के देशों के शहरों की रहवासी जनता के लिए शहरों में सुविधाएं जुटाकर जनजीवन बेहत्तर बनाने कार्य करने पर मंथन करके नये सुझाव आपस के कार्य अनुभवों से आदान प्रदान कर जनहित में प्राप्त करेंगे। शहरों को दक्षिण एशिया के देशों में किस प्रकार प्रदूषण मुक्त बनाया जाये इसके लिए बेहत्तर तरीके से व्यवहारिक उपाय किस प्रकार क्रियान्वित करने कार्य योजना बनाकर समयबद्ध कार्य किया जाये। किस प्रकार कार्य करके लोगो को सतत निरंतर व्यवहारिक रूप से शुद्ध व स्वच्छ पेयजल शहरों में उपलब्ध कराया जाये, किस प्रकार शहरों को कचरा मुक्त सफाई युक्त बनाने प्रभावी तरीके से कार्य किया जाये, नालों नालियों से गंदे पानी के सुगम निकास हेतु किस प्रकार प्रभावी कदम उठाये जाये एवं किस प्रकार दक्षिण एशिया के देषो के शहरों को स्मार्ट बनाने तेजी से कार्य करने शहर हित में कार्य संबंधी कार्य संस्कृति पर कार्य कर उसका विकास तेजी से किया जा सके। दो दिवसीय आयोजन गोवा में आल इंडिया इंस्टीट्यूट आफ लोकल सेल गर्वनमेंट की एडवाइजरी पर केन्द्रित बिन्दुओं पर हो रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.