रायपुर : एकीकृत आदिवासी विकास परियोजना की बैठक में 7.22 करोड़ रूपए के विकास कार्य अनुमोदित : 230 गांवों के 22550 हितग्राहियों को मिलेगा लाभ

रायपुर, 13 मार्च 2020 Jiwrakhan lal ushare cggrameen nëws

उच्च शिक्षा मंत्री श्री उमेश पटेल की विशेष उपस्थिति में एकीकृत आदिवासी विकास परियोजना मण्डल धरमजयगढ़ के परियोजना सलाहकार मण्डल की बैठक में वर्ष 2019-20 में सात करोड़ 22 लाख रूपए के विकास कार्याें का अनुमोदन किया गया। इन कार्याें से 230 गांवों के 22 हजार 500 से अधिक हितग्राहियों को विभिन्न सुविधाओं का लाभ मिलेगा।
बैठक में उच्च शिक्षा मंत्री श्री पटेल ने विशेष केन्द्रीय सहायता एवं केन्द्रीय क्षेत्रीय योजनान्तर्गत विगत वर्ष के स्वीकृत कार्यों में से अपूर्ण कार्यों की समीक्षा कर अधूरे कार्याें को शीघ्र पूरा करने का निर्देश दिए। उन्होंने बैठक में परियोजना के तहत अनुसूचित जनजातियों के विकास हेतु स्वीकृत विभिन्न कार्यों की प्रगति की समीक्षा भी की। इस अवसर पर एकीकृत आदिवासी परियोजना धरमजयगढ़ के परियोजना सलाहकार मण्डल के अध्यक्ष श्री लालजीत सिंह राठिया, विधायक श्री चक्रधर सिंह सिदार और जिला पंचायत अध्यक्ष श्री निराकार पटेल सहित विभागीय अधिकारी मौजूद थे। सलाहकार मण्डल की बैठक रायगढ़ के कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित की गई। बैठक में विभिन्न क्रियान्वयन एजेंसियों से प्राप्त प्रस्तावों के अनुसार वर्ष 2020-21 के लिए कार्ययोजना का अनुमोदन किया गया।
बैठक में वर्ष 2019-20 में परियोजना के तहत अनुमोदित इस राशि से जिले के 7 विकासखण्डों- धरमजयगढ़ क्लस्टर-एक, धरमजयगढ़ क्लस्टर-दो, लैलूंगा, तमनार, खरसिया, घरघोड़ा तथा पत्थलगांव के 230 गांवों के 22 हजार 550 हितग्राहियों को लाभ मिलेगा। परियोजना के तहत स्वीकृत राशि से खाद्य प्रसंस्करण प्लांट, रेशम व कोसा धागा निर्माण, बाल्य कुपोषण रोकथाम, कृषि प्रणाली विकास, सोलर पम्प स्थापना, स्कूलों में कम्प्यूटर, आश्रम शाला व छात्रावासों में शुद्ध पेयजल, लाईब्रेरी, स्मार्ट क्लास, सेनेटरी नेपकिन प्रदाय कार्यक्रम, सिकल सेल तथा जनजाति बाहुल्य क्षेत्रों में एनिमल बाईट का इलाज, लाख उत्पादन आदि कार्य किए जायेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.