3 सप्ताह तक सामाजिक दूरियां, खत्‍म होगा आपसी मनमुटाव,.


  •  – परिवार के साथ वक्‍त बिताने से दूर होगा मानसिक तनाव-डॉ परिहार
     
    रायपुर, 25 मार्च 2020। देशभर में आज से लॉकडाउन होने के बाद लोग अपने ही घरों में बंद हैं। यह सब कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए तीन सप्‍ताह तक सामाजिक दूरी बनाने देश की जनता से प्रधानमंत्री की अपील है। आज कीभाग दौड़ भरी जिंदगी में अचानक सामाजिक दूरी बनाए रखने और घरों से बाहर निकलने पर प्रतिबंध लगने से लोग असहज महसूस करने लगे हैं। घर में खुशनुमा माहौल बनाए रखने को लेकर मनोरोग चिकित्‍सक डॉ. डीएस परिहार का कहना है ये वक्‍त बहुत कीमती है और यह परिवार में आपसी दूरियां मिटाने का सुनहरा मौका है।
     
    हम अपने रिश्‍तेदारों से हाथ भले ही न मिलाएं लेकिन मोबाइल फोन पर बातचीत कर दिलों की दूरियां खत्‍म कर अपने संबंधों को मजबूत और भरोसे के लायक बना सकते हैं। डॉ परिहार कहते हैं मानसिक तौर पर तनाव के दबाव को खत्‍म करने के लिए अपने परिवार के साथ 24 घंटे बिताने का यह पल हम जिंदगीभर के लिए अनोखा बना सकते हैं। अक्‍सर नौकरी पेशा करने वाले लोग अपनी ऑफिस के काम के बोझ सुबह से लेकर देर रात तक जुझते रहते हैं। ऐसे में समय अपने परिवार मां-पिता, पत्‍नी और बच्‍चों को पूरा वक्‍त देकर तनाव को दूर कर सकते हैं।
     
    लॉकडाउन के दौरान आज राजधानी रायपुर के आरडीए कालोनी में एक परिवार के सदस्‍यों से फ़ोन पर लम्बी बातकर हालचाल जानने की कोशिश की और पूछा वह समय कैसे बिता रहे हैं | पेशे से एक बीमा कंपनी में चीफ एजेंसी पार्टनर के रुप में कार्यरत निलेश कुमार साहू ने बतायालॉकडाउन होने से घर पर ही रहकर मोबाइल कॉनटेक्‍ट के जरिये लोगों से पॉलिसी के बारे में जानकारी दे रहे हैं। निलेश बताते हैं बीमा के क्षेत्र में चुनौतियों काफी होने से 12 घंटे हर दिन फिल्‍ड वर्क करना पड़ता है। ऐसे में परिवार के लिए समय हीं नहीं बचताहैं। सुबह 10 बजे से रात 10 बजे तक घर से बाहर हर दिन 8 से 10 लोगों से मुलाकात करना हार्ड वर्क से भरी उनकी दिनचर्चा में मानसिक तनाव भी शामिल था। लेकिन आज परिवार कें साथ बैठ कर बच्‍चों की पढाई व कैरियर के बारे में बीतचीत कर टीवी देखते हुए आराम से समय कट रहा है।
     
    निलेश की पत्‍नी श्रीमती ललिता साहू बताती हैं ऑफिस और बच्‍चों का स्‍कूल छुट्टी होने पर सुबह उठकर टीफिन फिर नास्‍ता बनाने से राहत मिली है। बच्‍चों के साथ हंसी मजाक में वक्‍त आसानी से गुजर रहा है। निलेश के बेटी अंकिता कक्षा 8 वीं में पढाई करती हैं। अंकिता कहती है लॉकडाउन से उनको जनरल प्रमोशन मिल गया इससे वे काफी खुश है। इतना ही नहीं अब पापा घर पर ही रहते हैं तो इसमें मजा आ रहा है। पहले पापा से बात करने का मौका ही नहीं मिलता था। सुबह 7 बजे से स्‍कूल जाने के बाद दोपहर में घर और ट़्यूशन में समय गुजर जाता था। लेकिन अब पूरा समय घर में भाई के साथ मस्‍ती व किताबें पढकर लॉकडाउन में खूब आनंद ले रही हूं। और पापा के घर में होने से मम्‍मी की डांट भी नहीं खानी पड़ती है। ऐसे लग रहा है माने हर दिन संडे हो गया है।
     
    क्यों है महत्वपूर्ण समाजिक दूरी –
     
    स्‍वास्‍थ्‍य विभाग के परिवार कल्‍याण शाखा व होम आइशोलेशन के प्रभारी उप संचालक डॉ. अखिलेश त्रिपाठी कहते हैं संकट के इस घड़ी में देश के आम नागरिकों का साथ होना जरुरी है। कोरोना वायरस के फैलाव को रोकने के लिए दूसरे स्‍टेप पर ही हमारी तैयारी होने से वायरस के वाहक लोगों से बचा जा सकता है। इस समय हमें सामाजिक दूरी बनाने पर गंभीरता से काम करना चाहिए। उन्होंने यह भी बताया यह समय काफी महत्वपूर्ण है। यह कोराना वायरस के प्रसार को रोकने अथवा कम करने की रणनीति का हिस्सा है। यह सभी पर लागू होता है, चाहे उसमें किसी तरह का लक्षण हो या नहीं हो। इसमें यह बात भी मायने नहीं रखती वह उच्च जोखिम वाले वर्ग (बुजुर्ग अथवा बीमार) का हिस्सा है या नहीं। हमें अपने रहन-सहन में बदलाव करने की जरूरत है। अगर हमें इसके सकारात्मक नतीजे पाने हैं तो पूरी सख्ती से इसका पालन करना होगा।
    डॉ.त्रिपाठी बताते हैं खरीदारी करने के लिए ऐसे समय निकलें जब भीड़ कम होती है। आप ऑनलाइन या फोन पर भी चीजें मंगा सकते हैं। दूसरों से छह फुट की दूरी बनाकर रखें।दुकानों में मास्‍क लगाकर जाएं और कम से एक मीटर की दूरी बनाए रखें।बच्चों को खेलने के लिए बाहर न जाने दें। 21 दिन तक भीड़भाड़ वाली सार्वजनिक जगहों पर न जाएं।जिन चीजों को घर के सदस्य बारबार छूते हैं, उन्हें साबुन और पानी ने नियमित रूप से साफ करते रहें।
    अगर सफाई करने ब्लीच का इस्तेमाल कर सकते हैं तो वो भी ठीक रहेगी। अपने मोबाइल फोन को किसी कपड़े या रुई से किसी भी अल्कोहल वाले किटाणुनाशक से साफ किया जा सकता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस से बचने के लिए स्वच्छता को काफी अहम बताया है और लोगों से सफाई पर ध्यान देने की अपील की है।
    -//-
     

Leave a Reply

Your email address will not be published.