शिक्षकों के राशन वितरण पर कलेक्टर रखेंगे नजर… राज्य सरकार ने जारी किया आदेश- “कलेक्टर स्थानीय परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए करें”… सभी गाइडलाइन का कड़ाई से पालन करने का भी निर्देश … कल से होना है वितरण

EXCLUSIVEBy cggrameen nëws Jiwrakhan lal ushare

रायपुर 2 अप्रैल 2020। शिक्षकों की तरफ से स्कूली बच्चों के लिए राशन वितरण पर खुद कलेक्टर नजर रखेंगे। राज्य सरकार ने इस बाबत सभी कलेक्टरों को निर्देशित किया है कि वो राशन वितरण की मानिटरिंग करें। आपको बता दें कि बच्चों के लिए 40 दिन के मध्याह्न भोजन का सूखा राशन वितरित किया जाना है। निर्देश दिया गया है कि सूखी सामग्री के वितरण की व्यवस्था सभी कलेक्टर स्थानीय परिस्थितियों को ध्यान में रखते हुए करेंगे। स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा जारी आदेश में कहा गया है कि इस बात का विशेष ध्यान रखा जाए कि लॉकडाउन तथा सोशल डिस्टेंसिंग के सभी नियमों का पूर्णतः पालन हो तथा सभी विद्यार्थियों के पालकों को 40 दिनों के मध्यान्ह भोजन की सूखी सामग्री भी मिल जाए।

Watsapp

पूर्व में मध्यान्ह भोजन की सूखी सामग्री का वितरण स्कूलों से ही करने के निर्देश जारी किए गए थे। मंगलवार 31 मार्च को जारी निर्देशों में कहा गया था कि मध्यान्ह भोजन की सूखी सामग्री का वितरण घर पहुंचाकर किया जाए। इन निर्देशों का उद्देश्य लॉकडाउन की अवधि में सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्णतः पालन कराना है। अलग-अलग स्थानों में अलग-अलग परिस्थितियां हो सकती है। जिनके कारण वितरण की व्यवस्था का निर्धारण स्थानीय रूप से किए जाने की आवश्यकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.