आरबीआई गवर्नर की प्रेस कॉन्फ्रेंस, नकदी फ्लो के लिए करेगा करोड़ों का निवेश, पढ़े पूरी खबर…

बिज़नेस / छत्तीसगढ़

,  17 Apr , Jiwrakhan lal ushare cggrameen nëws
आरबीआई गवर्नर की प्रेस कॉन्फ्रेंस, नकदी फ्लो के लिए करेगा करोड़ों का निवेश, पढ़े पूरी खबर...

रायपुर/नई दिल्ली। कोरोना वायरस के खिलाफ चल रही जंग देशभर में लॉक डाउन 2.0 जारी है। इस बीच हो अर्थव्यवस्था के नुकसान को रोकने के लिए सरकार प्रयासरत है। एक तरफ देश में लॉक डाउन की समयअवधि बढ़ा दी गई है। वही केंद्र सरकार अर्थव्यवस्था के लिए कुछ और कदम उठा सकती है। इसी कड़ी में आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं। अपनी प्रेस कॉन्फ्रेंस की शुरुआत उन्होंने महात्मा गांधी के कोट्स को दोहराते हुए कहा कि हमें अंधेरे के वक्त उजाले की तरफ देखना है, मौत के वक्त जिंदगी की तरफ देखना है। आरबीआई गवर्नर ने एक और बड़ा ऐलान करते हुए रिवर्स रेपो रेट में 25 बेसिस पॉइंट की कटौती का ऐलान किया है जो तत्काल लागू होगी। इसके बाद रिवर्स रेपो रेट 4 प्रतिशत से 3.75 प्रतिशत पर आ जाएगी। यह वो दर है जिस पर रिजर्व बैंक, बैंकों को लोन देता है। वहीं रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया गया है।

गवर्नर ने रिजर्व बैंक की तरफ से उठाए जा रहे कदमों की जानकारी देते हुए कहा कि देश में कैश की कमी नहीं होने दी जाएगी। फाइनेंशल स्ट्रेस को कम करने के लिए कदम उठाए जाएंगे। नबार्ड, सिडबी जैसे सेक्टर्स को 50 हजार करोड़ की मदद का ऐलान किया गया है। इसमें 25 हजार करोड़, SIDMI को 15 और NHB को 10 हजार करोड़ की मदद का ऐलान किया है। शक्तिकांत दास ने कहा कि इन हालातों में भी आरबीआई और बैंक पूरी तरह से काम कर रहे हैं। दुनिया की अर्थव्यवस्था बुरे दौर में है और पूरी दुनिया में बड़ी मंदी का अनुमान जताया जा रहा है। कोरोना की वजह से दुनिया में 9 ट्रिलियन डॉल के नुकसान का आनुमान है। इस बीच भारत के हालात दुनिया के अन्य देशों से बेहतर है और देश के वित्तिय हालातों पर लगातार नजर रखी जा रही है। देश में 91 प्रतिशत एटीएम काम कर रहे हैं वहीं उद्योगों के मामले में ऑटो सेक्टर को नुकसान हुआ है वहीं निर्यात भी कम हुआ है। इस दौर में भारत की जीडीपी ग्रोथ 1.9 प्रतिशत रहने की आशंका जताई गई है। हालांकि, इस बार मानसून अच्छा रहने की उम्मीद है और ऐसे में अर्थव्यवस्था को सहारा मिलेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.