खिलाफ, भारत दुनिया का दर्द समझता है, हमने दुनियाभर को दवाई भेजी, कोरोना ने आदत बदली, मास्क जीवन का हिस्सा बना, गरीबों की मदद करे

Jiwrakhan lal ushare cggrameen nëws

दिल्ली वेब डेस्क / प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक बार फिर रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में देश को संबोधित किया हैं | आज अप्रैल महीने का आखिरी रविवार है | ‘मन की बात’ कार्यक्रम हर महीने के आखिरी रविवार को ही प्रसारित होता है | उन्होंने उम्मीद जाहिर की है कि ईद के पहले देश से कोरोना को ख़त्म कर दिया जायेगा | लोगों ने ईस्टर घर पर मनाया, रमजान के पवित्र महीने को शुरुवात पर उन्होंने लोगों से संयम बरतने की अपील की | उन्होंने कहा कि कोरोना से सतर्कता बरते | वर्ना नज़र हटी दुर्घटना घटी |  उन्होंने कहा कि रमजान में लोगों की ज्यादा सेवा करे | प्रशासन का सहयोग करे, सार्वजनिक  स्थानों पर थूकने की आदत छोड़े | पीएम ने कहा दो गज दुरी बहुत जरुरी | 

देश को सम्बोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि ताली, थाली, दीया, मोमबत्ती, इन सारी चीज़ों ने जिन भावनाओं को जन्म दिया। जिस जज्बे से देशवासियों ने कुछ-न-कुछ करने की ठान ली, हर किसी को इन बातों ने प्रेरित किया है | हमारे किसान भाई-बहन को ही देखिये – वो इस महामारी के बीच अपने खेतों में दिन-रात मेहनत कर रहे हैं और इस बात की भी चिंता कर रहे हैं कि देश में कोई भूखा ना सोये | प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि पूरे देश में गली मोहल्लों में, जगह जगह पर आज लोग एक दूसरे की सहायता के लिए आगे आए हैं | गरीबों के लिए खाने से लेकर राशन की व्यवस्था हो लॉकडाउन का पालन हो, अस्पतालों की व्यवस्था हो, मेडिकल इक्वीपमेंट का देश में निर्माण हो-आज पूरा देश एक लक्ष्य, एक दिशा, साथ साथ चल रहा है |

पीएम मोदी ने कहा कि भारत की कोरोना के खिलाफ लड़ाई सही मायने में people driven है | भारत में कोरोना के खिलाफ लड़ाई जनता लड़ रही है, आप लड़ रहे हैं, जनता के साथ मिलकर शासन, प्रशासन लड़ रहा है | प्रधानमंत्री ने कहा कि हम भाग्यशाली हैं कि आज पूरा देश, देश का हर नागरिक, जन-जन इस लड़ाई का सिपाही है और लड़ाई का नेतृत्व कर रहा है | आज पूरा देश, एक लक्ष्य, एक दिशा के साथ आगे बढ़ रहा है | पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ असली लड़ाई लड़ाई जनता लड़ रही है। आज पूरा देश एक साथ चल रहा है।

पीएम ने कहा कि पूरे देश में, गली मोहल्लों में जगह-जगह पर, आज लोग एक दूसरे की सहायता के लिए आगे आए हैं। गरीबों के लिए खाने से लेकर, राशन की व्यवस्था हो, लॉकडाउन का पालन हो, अस्पतालों की व्यवस्था हो, मेडिकल इक्विपमेंट का देश में ही निर्माण हो- आज पूरा देश एक लक्ष्य, एक दिशा में साथ-साथ चल रहा है | 

Leave a Reply

Your email address will not be published.