जय सेवा जय बड़ा देव आदिवासी भाइयों आपसे सादर अपील

जय सेवा जय बड़ा देव आदिवासी भाइयों आपसे सादर अपील किया जाता है की 2021 में हमें आदिवासियों का धर्म संस्कृति आरक्षण खत्म करना चाहते हैं यह हिंदू और आर एस एस के लोग हमें हमारी पहचान मिटाना चाहते हैं इसीलिए हमें हमारी धर्म को छोड़कर कभी हिंदू धर्म नहीं अपनाना है इससे हमारा आरक्षण खत्म हो जाएगा अगर हमारा धर्म हिंदू लिखते हैं तो हमारा आने वाला बाल बच्चे और आने वाला पीढ़ी को गवर्नमेंट स्कूल में सीट नहीं मिलेगा हमारा संविधान में जो आरक्षण आदिवासियों के लिए लिखा है वह आरक्षण खत्म हो जाएगा इसीलिए गोंड आदिवासी समाज के युवा पीढ़ी को और बुजुर्ग कुछ यादों को अपील करता हूं की वह किसी भी गणेश भगवान या अन्य भगवान को स्थापना ना करें इससे हमारे रक्षण खत्म हो सकता है अभी भी समय है आदिवासी भाइयों नींद से जाग जाओ आने वाला पीढ़ी को बहुत दिक्कत है झेलना पड़ जाएगा हमारे भैसासुर और महाराजा रावण को बेइज्जत किया जाता है दुर्गा प्रतिमा के पैरों तले हमारे भैसासुर का प्रतिमा लगाकर आदिवासी देव देवी देवताओं का अपमान किया जाता है और हमारे राजा रावण का दहन किया जाता है और हमारे आदिवासी भाई वहां जाकर मजा लेते हैं धिक्कार है ऐसी आदिवासी भाइयों पर कि अपने ही पूर्वजों को मारते देखकर खुश होते हैं मेरे से अपील है अभी नहीं जागे तो कभी नहीं जागोगे आज एक ही समाज है वह आदिवासी समाज हमेशा संघर्ष करता रहता है कभी आप लोगों को पूछते हैं तो आप कहते हो की मैं गोंड आदिवासी हूं लेकिन आप यह नहीं जानते आदिवासी होने के लिए क्या कुर्बानी देना पड़ता है हमारे नाम जो आदिवासियों से जुड़ा है हम एक प्राकृतिक पूजक हैं हम कोई मिट्टी का मूर्ति को पूजा करने का कोई यह नहीं है अगर हम इसी तरह गणेश भगवान या या अन्य भगवान को पूजा करते हैं तो हमें आदिवासी कहने का कोई हक नहीं और आप सच्चे आदिवासी होंगे तो मूर्ति का भगवान को पूजा ना करेंगे गोंडवाना समाज के तरफ से अपील है गोंडवाना भवन मानपुर जय सेवा जय बड़ा देव जय प्राकृतिक पूजक