अशासकीय विद्यालय फीस विनिमयन विधेयक पारित होने से स्कूल ,पालको सभी का भला होगा -कांग्रेस

     

कांग्रेस सरकार ने जन अपेक्षाओं के अनुरूप कानून बनाया

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज 28 अगस्त 2020/कांग्रेस ने विधानसभा में अशासकीय विद्यालय फीस विनियमन विधेयक पारित होने का स्वागत किया है ।प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता सुशील आनंद शुक्ला ने कहा कि इस कानून की आवस्यकता बड़े दिनों से महसूस की जा रही थी ।मुख्य मंत्री भूपेश बघेल ने इस कानून को बना कर जनता की अपेक्षाओं को पूरा करने का काम किया है । इस विधेयक के पारित होने के बाद निजी स्कूलों और पलको के बीच जो एक द्वंद चल रहा था उस पर विराम लगेगा ।
स्कूलों की उनकी गुणवत्ता और सुविधाओं के अनुरूप फीस का निर्धारण स्कूल स्तर ,जिला स्तर और प्रदेश स्तर की कमेटियों के द्वारा किया जाएगा ।इन कमेटियों में पालको और विद्यालयों सभी के प्रतिनिधि होंगे इससे एक दूसरे पर आरोप लगाए जाने के युग का भी अंत होगा।
प्रदेश कांग्रेस के प्रवक्ता ने कहा कि इस कानून के बनने के बाद शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार होगा तथा पालको को अपने बच्चों के शिक्षा के लिए किए जाने वाले खर्च की पूरी वसूली होगी ।निजी स्कूलों को भी रोज होने वाले फीस सम्बन्धी विवादों से निजात मिल सकेगी स्कूल अपनी सुविधाओ के अनुसार फीस वसूल सकेंगे।इसके साथ ही विद्यालयों में इस कानून का उल्लंघन होने पर दंड का प्रवधान होने के कारण यह कानून निसन्देह प्रभावी और लोक कल्याणकारी साबित होगा ।इस कानून को बना कर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक बार फिर से साबित कर दिया कि उनकी सरकार की प्राथमिकता में आप आदमी और उसके हित सर्वोपरि हैं
सुशील आनंद शुक्ला
सदस्य
कांग्रेस संचार विभाग