दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे रायपुर रेल मंडल में स्वच्छता पखवाड़ा के तेरहवें दिन स्वच्छ नीर थीम आयोजन

रायपुर :- 28 सितम्बर 2020/ Jiwrakhan lal Ushare cggrameen nëws

         भारतीय रेलवे में स्वच्छ-रेल स्वच्छ-भारत के तहत स्वच्छता-पखवाडा का आयोजन किया जा रहा है। दिनांक 16 सितम्बर से 30 सितम्बर 2020 तक आयोजित इस स्वच्छता-पखवाडा में दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे के रायपुर मंडल में प्रत्येक दिवसों के थीम के अनुसार विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है । 

    आज दिनांक 28 सितम्बर 2020 को स्वच्छ नीर थीम पर रायपुर रेल मंडल के स्टेशनों ,सभी कार्यालयों, यूनिटो, रेलवे कॉलोनियों, हॉस्पिटल, रेलवे स्टेशन पर सप्लाई किए जाने वाले पानी की व्यवस्था एवं उपलब्ध कराए जा रहे पानी की गुणवत्ता की जांच की गई । 

      आज रायपुर रेल मंडल के प्रमुख स्टेशनों सभी कार्यालयों, यूनिटो, रेलवे कॉलोनियों, हॉस्पिटल, रेलवे स्टेशन पर सप्लाई किए जाने वाले पानी की व्यवस्था एवं उपलब्ध कराए जा रहे पानी की गुणवत्ता की जांच की गई । वाटर फिल्टर हाउस से निकलने वाले पानियों की गुणवत्ता की जांच की गई और प्लांट  के आसपास  साफ-सफाई की जांच की गई । स्टेशन में उपलव्ध कराई गई पेयजल व्यवस्था, पेयजल की शुद्धता एवं वाश बेसिन, हाईड्रेंड पाइप, कोच में पानी भरने के स्थानों की साफ-सफाई का गहन निरीक्षण किया । सभी प्लेटफार्म में उपलव्ध वाटर बूथ, वाटर कूलर तथा वाटर टैप से पानी का नमूना लेकर उसकी शुद्धता के साथ ही साथ पानी की आपूर्ति एवं साफ-सफाई का निरीक्षण किया । पीने के पानी के लिए चेकिंग में उपयोग आने वाले टेस्टिंग किट एवं रसायनों की उपलब्धता भी सुनिश्चित की गई । मंडल के सभी स्टेशनों के नलों को भी देखा गया कि ये सही तरीके से कार्य कर रहे हैं या नहीं इसकी पुष्टि की गई। जिससे यात्रियों को किसी भी तरह का कठिनाई का सामना न करें ।

     इसी के साथ रायपुर रेलवे स्टेशन में जल उपचार और फिल्टरेशन और ओवरहेड टैंक का संयुक्त निरीक्षण किया गया । डब्ल्यू.आर.एस. वाटर फिल्टर प्लांट में पानी की पूर्व और बाद की फिल्टरिंग गुणवत्ता की जाँच भी की गई और  दुर्ग रेलवे स्टेशन पर वॉटर वेंडिंग मशीन और टीडीएस वैल्यू का रिकॉर्ड का जांच  किया  गया और वाटर सैंपल कलेक्शन कर उसके डब्लू बी (WB Tap) और आर ओ डब्ल्यू वी एम (RO Wvm) लिया गया ।

इसी के साथ रायपुर, दुर्ग, भिलाई पावर हाउस, भाटापारा, तिल्दा – नेवरा सहित अन्य स्टेशनों में भी स्वच्छ पेयजल की उपलब्धता को लेकर यात्रियों को पोस्टर ,बैनर,और फ्लेक्स के माध्यम से भी जागरूक किया गया कि पीने के पानी का जल महत्वपूर्ण है । उक्त स्थानों पर हाथ- मुँह ना धोएं ,कूल्ला ना करें, पेयजल के स्थानों पर गंदगी ना करें और पेयजल के स्थानों को स्वच्छ बनाए रखें । स्वच्छ रेल – स्वच्छ भारत बनने में अपनी अहम् भूमिका अदा करें और रेलवे प्रशासन को अपना सहयोग प्रदान करे ।