रिश्वत खोरी के विरूद्ध कड़ी कार्यवाही के संबंध में उप पुलिस महानिरीक्षक

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज
ईओडब्ल्यू एवं एसीबी छ0ग0 श्री आरिफ हुसैन शेख द्वारा दिये गये निर्देश के तारतम्य में
पुलिस अधीक्षक ईओडब्ल्यू एवं एसीबी छ0ग0 श्री पंकज चन्द्रा के कुशल मार्गदर्शन में
एसीबी इकाई अम्बिकापुर द्वारा रिश्वत खोर पटवारी अनूप सिन्हा ग्राम पाठकपुर जिला
सूरजपुर को 4000/रु. रिश्वत लेते हुए रंगे हाथ पकड़ा गया। घटना का विवरण इस
प्रकार है कि दिनांक 11.09.2020 को प्रार्थी प्रेमसाय पिता बागरसाय निवासी ग्राम
पाठकपुर जिला सूरजपुर द्वारा एसीबी इकाई अम्बिकापुर में इस आशय की शिकायत की
गई थी कि ग्राम पाठकपुर स्थित उसके कृषि जमीन से प्राप्त धान को सोसायटी में बेचने
के लिए पटवारी से पंजीयन कराना होता है। पंजीयन फार्म में कृषि जमीन का रकबा
दर्ज करने के एवज में पटवारी ग्राम पाठकपुर अनूप सिन्हा द्वारा 5000/रु. की रिश्वत
की मांग की जा रही है। शिकायत का सत्यापन कराने के दौरान अनूप सिन्हा द्वारा प्रार्थी
से मोल भाव पर अंतत: 4000/रु. लेने हेतु सहमति दी गई थी। उक्त रिश्वत राशि
4000/रु. को प्रार्थी से लेते हुए पटवारी अनूप सिन्हा पिता रविन्द्र प्रसाद सिन्हा उम्र-
29 वर्ष निवासी- गोधनपुर अम्बिकापुर जिला सरगुजा छ0ग0 को रंगे हाथ एसीबी इकाई
अम्बिकापुर द्वारा ग्राम लटोरी जिला सूरजपुर में आज दिनांक 17.10.2020 को पकडा
गया। पटवारी के विरूद्ध धारा-7 भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम 1988 के तहत कार्यवाही
की जा रही है।