फिर घर-घर होगा आलू , भूटान से मंगाया जा रहा है 30 हजार टन आलू , त्यौहारी सीजन में आपूर्ति बढ़ाने और कीमतें कम करने के लिए केंद्र ने उठाया कदम

BUSINESS/ECONOMY NEWSमुख्य ख़बर

By. Jiwrakhan lal Ushare cggrameen nëws

Share

नई दिल्ली / जल्द ही आलू एक बार फिर किचन में नजर आएगा | आसमान छू रही आलू और प्याज कीमतों को काबू में लाने के लिए केंद्र सरकार इनका आयात कर रही है। केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार को कहा कि भारत सरकार भूटान से 30 हजार टन आलू आयात कर रही है। उन्होंने कहा कि ऐसा आलू की घरेलू आपूर्ति बढ़ाने और कीमतों को कम करने के लिए किया जा रहा है। 

उपभोक्ता मामलों के मंत्री गोयल ने कहा कि सात हजार टन प्याज पहले ही आयात किया जा चुका है। इसके अलावा दिवाली से पहले 25 हजार टन और प्याज आने की उम्मीद है। दरअसल देश में प्याज की कीमतें भी लगातार बढ़ रही हैं। इसके चलते घरों के किचन से लेकर स्ट्रीट फूड के स्टालों में भी आलू  और प्याज की किल्ल्त नजर आ रही है | वही दूसरी ओर इनकी बढ़ती कीमतों ने आम जनता का दम निकाल दिया है | हालांकि केंद्र सरकार प्याज से साथ-साथ प्याज के बीज के निर्यात पर भी प्रतिबंध लगा चुकी है।   

पीयूष गोयल ने  कहा कि भारतीय राष्ट्रीय कृषि सहकारी विपणन संघ (नैफेड) भी जल्द ही प्याज का आयात शुरू करेगा। तीन दिन से प्याज का थोक भाव 65 रुपये प्रति किलो पर स्थिर है। सरकार कीमतें कम करने के लिए जरूरी फैसले ले रही है। आयात समय पर प्रतिबंधित किया गया था और निर्यात के लिए कदम उठाए गए थे।

केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि दिवाली पर्व से पहले-पहले 25 हजार टन प्याज की एक खेप और आने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि आयात होने के साथ-साथ अगले महीने से मंडियों में आने वाली खरीफ की फसल से भी आपूर्ति की समस्या से निपटने में और कीमतों पर बढ़ रहे दबाव को कम करने में मदद मिलेगी।