उद्यमिता विकास और व्यक्तित्व विकास से मिलेगी सफलता: डाॅ. पाटील

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

‘‘व्यवसाय के अवसर एवं व्यक्तित्व विकास’’ पर एक दिवसीय वेबिनार आयोजित

रायपुर, 11 नवम्बर, 2020। इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर के कैरियर डेवलपमेन्ट सेन्टर द्वारा राष्ट्रीय कृषि उच्च शिक्षा परियोजना, हैदराबाद, राष्ट्रीय कृषि अनुसंधान प्रबंध अकादमी, हैदराबाद एवं छत्तीसगढ़ विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी परिषद, रायपुर के सहयोग से ‘‘व्यवसाय के अवसर एवं व्यक्तित्व विकास’’ विषय पर एक दिवसीय वेबिनार का आयोजन किया गया। वेबिनार का शुभारंभ इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर के कुलपति डाॅ. एस.के. पाटील ने किया। मुख्य वक्ता के रूप में कुलपति डाॅ. एस.के. पाटील ने वेबिनार में उपस्थित विद्यार्थियों को ‘कृषि में व्यवसाय के अवसर तथा व्यक्तित्व विकास’ विषय पर व्याख्यान देते हुए कहा कि कृषि एवं संबंधित क्षेत्रों में उद्यमिता की अपार संभावनाएं हैं, इससे आप अपनी आजीविका प्राप्त करने के साथ-साथ अन्य लोगों को भी आजीविका उपलब्ध करा सकेंगे। इससे आप अपना पारिवारिक व्यवसाय स्थापित करने में सफल होंगे और आपकी आगामी पीढ़ी के लिए भी आजीविका की व्यवस्था हो जाएगी। डाॅ. पाटील ने विद्यार्थियों से आव्हान किया कि वे नौकरी के पीछे न भागें, और शिक्षा के दौरान अर्जित ज्ञान का उपयोग अपनी आजीविका के लिए व्यवसाय एवं उद्यम स्थापित करने के लिए करें।
व्यक्तित्व विकास विषय पर विद्यार्थियों को संबोधित करते हुए डाॅ. पाटील ने कहा कि किसी भी नौकरी के साक्षात्कार में आप शामिल होते हैं तो आपकी शैक्षणिक योग्यता तथा अर्जित ज्ञान के अलावा आपका व्यक्तित्व, आपका बातचीत करने का तरीका, हाव-भाव, भाषा शैली आदि भी काफी मायने रखती है। अतः व्यक्तित्व विकास की विद्यार्थियों की सफलता में महत्वपूर्ण भूमिका है। श्री कमल कुमार, सलाहकार, धानुका एग्रीटेक लिमिटेड, गुड़गांव ने ‘कृषि संगठनों की भूमिका एवं अपेक्षाएं’’ विषय पर विद्यार्थियों को जानकारी दी। इसी प्रकार डाॅ. अमित त्रिपाठी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जियोलाईफ एग्रीटेक इंडिया प्राइवेट लिमेटेड, मुम्बई द्वारा ‘कोविड-19 एवं कृषि उद्योग की चुनौतियां तथा अवसर’ विषय पर प्रकाश डाला। स्वागत उद्बोधन डाॅ. जी.के. श्रीवास्तव, अधिष्ठाता छात्र कल्याण, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, रायपुर एवं कार्यक्रम के आयोजन सचिव द्वारा दिया गया। कार्यक्रम के अन्त में डाॅ. एस.एस. टुटेजा ने उपस्थित अतिथियों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया। इस अवसर पर इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय के कुलसिचव, डाॅ. प्रभाकर सिंह, लेखानियंत्रक, श्री वी.के. खलखो, निदेशक शिक्षण डाॅ. एम.पी. ठाकुर, अधिष्ठाता कृषि महाविद्यालय, रायपुर डाॅ. एस.एस. राव सहित अनेक कृषि वैज्ञानिक उपस्थित थे।

(संजय नैयर)
सूचना एवं जनसंपर्क अधिकारी