रायपुर : का साग हे, कइसे किलो देहे, बारी के हे न, ताजा हवय न : सड़क पर सब्जी खरीदने के बहाने टैक्स की टोह ली मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने

रायपुर, 25 नवम्बर 2020 जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

का साग हे, कइसे किलो देहे, बारी के हे न, ताजा हवय न
मूरई के कइसे किलो हे, भाटा अउ पताल कइसे देवथ हो….

कुछ इसी ठेठ छत्तीसगढ़ी अंदाज में  नगरीय प्रशासन विकास एवं श्रम मंत्री डॉ. शिवकुमार डहरिया ने सड़क पर उतरकर सब्जी खरीदने वालों के बीच पहुंचकर  न सिर्फ सब्जी ली, उनसे बातों ही बातों में यह जानने की कोशिश की कि सब्जी बेचने दुकान लगाने के बदले कोई शुल्क तो वसूला नहीं जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने हाल ही में समस्त प्रकार का बाजार शुल्क समाप्त किया है। इन विक्रेताओं से किसी प्रकार का बाजार शुल्क न लिया जाए, वेंडिंग जोन के अतिरिक्त शहर के मुख्य मार्गों पर रोड मार्किंग कर तथा नगरीय निकाय शासन के स्वामित्व के मैदान, बाजार, स्टेडियम आदि के विक्रेताओं के बैठने की व्यवस्था के लिए जिला प्रशासन और नगर निगम को निर्देश भी दिए हैं।
         मंत्री डॉ डहरिया ने मुख्यमंत्री के निर्देशों के तहत सड़क किनारे बैठने वाले विक्रेताओं को किसी तरह की परेशानी न हो इसके लिए संबंधित अधिकारियों को आवश्यक निर्देश भी दिए हैं। रायपुर-खरोरा मार्ग में उन्होंने सड़क किनारे सब्जी की दुकान लगाने वाले किसानों से सब्जियां लीं और उन्हें प्रोत्साहित करते हुए कहा कि आपके द्वारा बेंची जाने वाली सब्जियां ताजी होने के साथ स्वाद में भी बढियां है। उन्होंने अपने घर के लिए बैंगन, मूली,गांठ गोभी,टमाटर सहित अन्य सब्जियां भी खरीदी।