पहली बार जिले के मुखिया को अपने स्कूल में देख खुशी से झूम उठी छात्रायें, कलेक्टर मोहबे ने बताई अपनी अतीत तो छात्राओं ने डीएम को माना अपना आदर्श व प्रेरणाश्रोत

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

बालोद.

राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर पर आज बालोद जिले के कलेक्टर जनमेजय महोबे अपने परिवार के साथ आदिवासी बाहुल्य ब्लॉक डौंडी के गुदुम गांव पहुंचे। इसके साथ ही आदिवासी सहायक आयुक्त माया वारियर व प्रशासनिक अधिकारी भी मौजूद थे। जहां के हायर सेकेंडरी स्कूल पहुंचकर छात्राओं द्वारा बनाएं रंगोली का अवलोकन किया और छात्राओं द्वारा बनाई कविता देखकर खुश हुए। कलेक्टर ने स्कूल परिसर में पौधे भी रोपित किये।

उन्होंने बालिकाओं की कार्यशैली की प्रशंसा की और सभी छात्राओं को अपने अतीत के बारे में बताया। वही कलेक्टर ने सभी प्रतिभावान छात्रों को अपनी ओर से सम्मानित किया। पहली बार जिले के मुखिया को अपने स्कूल में देखकर सभी खुशी से झूम उठे और कलेक्टर की जीवन शैली से प्रभावित होकर उन्हें अपना प्रेरणा स्रोत व आदर्श भी मान लिया।

दरअसल गुदुम हायर सेकेंडरी स्कूल की छात्राएं हमेशा से हरे क्षेत्र में आगे रहती है जिससे प्रदेश प्रदेश स्तर पर जिले का गौरव बढ़ता है इसीलिए आज कलेक्टर सहित अन्य प्रशासनिक अधिकारियों ने उक्त स्कूल का दौरा किया। इसके अलावा आंगनबाड़ी केंद्रों व स्कूल में व्यवस्थाओं का जायजा भी कलेक्टर ने लिया।

इन छात्राओं का हुआ सम्मान

राष्ट्रीय बालिका दिवस के अवसर शिक्षा सारथी के रुप में सम्मान पाने वाले विद्यार्थी शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय सुरडोंगर से कु.मोनिका, फलेवश्वरी, गीतांजली,
प्रेमलता, अर्पणा, अलिशा, भानुदेवी, अनुराधा, डोमेश्वरी, खुमेश्वरी, लिशा, टिकेश्वरी व बालक विद्यार्थियों में गुनेश्वर, दिव्यांशु, न्यूतेश सम्मानित हुए। तो वहीं शासकीय हाई स्कूल गुदुम से भूमिका, शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय लाटाबोर से कु.भारती यादव को जिला में दसवीं बोर्ड में प्रथम स्थान प्राप्त करने पर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर सहायक आयुक्त श्रीमती माया वारियार, जिला शिक्षा अधिकारी आर.एल.ठाकुर, डीपीसी पीसी मरकले, सहायक विकासखंड शिक्षा अधिकारी श्रीमती अभिलाषा अग्रवाल, गुदुम प्राचार्य सहित समस्त स्टाफ प्रेमलाल बघेल, व्यख्यातागण श्रीमती बी.वैष्णव, श्रीमती आर .वी.तारम, श्रीमती एच कोशिक, श्रीमती के खरे, एल.के.बंदे, भूषण लाल धुर्वे, संजय बंजारे सुरडोंगर सहित छात्र छात्राएं उपस्थित थे।