आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति छत्तीसगढ़✒️


✒️ जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज
आरक्षण विहीन नियमित पदोन्नति पर रोक हेतू विधिक कार्यवाही, सहित पांच सूत्रीय मांगों को लेकर गवर्नमेंट एम्पलाइज वेलफेयर एसोसिएशन छ ग का प्रांतीय धरना प्रदर्शन 03 फरवरी को बुढा तालाब रायपुर में । धरना में सरगुजा से बस्तर व राजनांदगांव से रायगढ़ सहित 27 जिला के आरक्षित वर्ग,अनुसूचित जाति, जनजाती अन्य पिछड़ा वर्ग के अधिकारी कर्मचारी शामिल होंगे
संगठन के प्रांताध्यक्ष कृष्ण कुमार नवरंग ने बताया कि 03 फरवरी को धरना प्रदर्शन में राज्य सरकार जानबूझकर आरक्षण पर दोहरा चरित्र अपना कर नियमित पदोन्नति दे रही है ।एक तरफ पदोन्नति में आरक्षण देने की बात कर पिंगूआ कमेटी का गठन कर क्वान्टिफिएबल डाटा जमा करने में विलंब कर रही है और दूसरे तरफ अनु जाति ,व जनजाति को प्रमोशन से रोकने के वन कृषि गृह विभाग में धड़ाधड़ पदोन्नति देकर लिस्ट जारी किया है और शीघ्र पदोन्नति देने के लिये सामान्य प्रशासन विभाग ने सभी विभाग प्रमुख को डीपीसी करने निर्देशित कर रही है ।गर्वनमेंट एम्पलाइज वेलफेयर एसोसिएशन ने सरकार पर आरोप लगाया कि अधिकारियों के इस तरह एकतरफा पदोन्नति आदेश व आरक्षण विहीन पदोन्नति देने की कार्यवाही से ऐसा प्रतीत होती है कि अधिकारी पर सरकार की पकड़ करजोर है या जानबूझकर एस सी, एस टी को पदोन्नति से रोकना चाहती है ।संघ ने सरकार पर आरोप लगाया कि राज्य में नवस्थापित 150 उत्कृष्ट अंग्रेजी माध्यम के लगभग नौ अधिकारियों ने ब्याख्याता जैसे राज्य स्तरीय पदों की संविदा भर्ती में प्रति विद्यालय के लिए एकल पदों के आधार पर विज्ञापन जारी कर समान्य प्रशासन विभाग छ ग शासन के संविदा भर्ती नियम का खुला उल्लंघन किया है। इस भर्ती से अर्थात आरक्षण विहीन भर्ती से लगभग अनुसूचित जाति ,जनजाति, व अन्य पिछड़ा वर्ग के लगभग 49 सौ बेरोजगार युवाओं को नौकरी से वंचित हो जाएगा ।छ ग सरकार के अधिकारियों की इस मनमानी पूर्वक भर्ती व पदोन्नति से आरक्षित वर्ग में आक्रोश है ।संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष भोला राम मरकाम ,सचिव राधेश्याम टंडन ने स्पष्ट किया कि संघ आरक्षण बचाओ संघर्ष समिति के बैनर तले आंदोलन के प्रथम चरण में 05 जनवरी को सभी जिला मुख्यालयों में मा मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन जिला कलेक्टर को सौंपी गई फिर संभाग स्तरीय धरना प्रदर्शन के तहत 12 जनवरी को बस्तर 18 को बिलासपुर 21 जनवरी को दुर्ग संभाग में धरना प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया गया है प्रदेश प्रवक्ता नरेंद्र जांगड़े व महामंत्री रामकुमार ठाकुर ने बताया कि संगठन तय समय के मुताबिक 03 फरवरी को बुढा तालाब रायपुर में पांच सूत्रीय मांग के निराकरण हेतु एकदिवसीय धरना देंगे और उसी दिन अनिश्चित कालीन हड़ताल के तिथि की घोषणा करेगी । संगठन ने राज्य के सभी अनुसूचित जाति व जनजातीय तथा पिछडे वर्ग के अधिकारियों व कर्मचारियों से आकस्मिक अवकास लेकर धरना में शामिल होने की अपील की है:*
सादर प्रकाशन हेतु

       *कृष्ण कुमार नवरंग* 
              प्रांताध्यक्ष

गवर्नमेंट एम्पलाइज वेलफेयर एसोसिएशन छ ग

पं न 122201956673
मो 78981543