150 अंग्रेजी उत्कृष्ट व एकलव्य विद्यालय में आरक्षण को दरकिनार कर एकल विद्यालय, एकल पदों पर भर्ती कर अनुसूचित जाति जनजाति व पिछड़े वर्ग को आरक्षण से वंचित करने के बाद


जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज150 अंग्रेजी उत्कृष्ट व एकलव्य विद्यालय में आरक्षण को दरकिनार कर एकल विद्यालय, एकल पदों पर भर्ती कर अनुसूचित जाति ,जनजाति व पिछड़े वर्ग को आरक्षण से वंचित करने के बाद
अनुसूचित जनजाति को आरक्षित अनुसूचित क्षेत्रों में लागू स्थानीय लोगों के लिए तृतीय व चतुर्थ श्रेणी के पदों में नियुक्ति हेतु अनिवार्यता को हटाने से बस्तर ,सरगुजा व बिलासपुर संभाग के कोरबा व मरवाही जिला के स्थानीय बेरोजगार शिक्षक व सहायक शिक्षक की नियुक्ति से होंगे
आरक्षित वर्ग को आरक्षण से वंचित करने छ ग सरकार के शिक्षा विभाग का अंग्रेजी विद्यालय, आरक्षण विहीन पदोन्नति देने के बाद अधिसंख्यक अधिवासी समाज के बेरोजगार युवाओं को नियुक्ति से वंचित करने तीसरा हमला

29 आदिवासी व 10 अनुसूचित जाति के विधायक की चुप्पी चिंतनीय

गवर्नमेंट एम्पलाइज वेलफेयर एसोसिएशन छ ग (आरक्षीत वर्गों की आवाज )ने अधिसूचना को रद्द करने की मांग
संगठन के प्रांताध्यक्ष कृष्णकुमार नवरंग ने छ ग सरकार पर आरक्षित वर्ग के प्रति उपेक्षा का आरोप लगाते हुए कहा कि भारत के संविधान की पांचवी अनुसूची के पैरा-5के उप पैरा(1)के तहत छत्तीसगढ़ सिविल सेवा(सेवा की सामान्य शर्तें)नियम 1961के नियम5में उल्लिखित “नियुक्ति के लिए पात्रता”संबंधी प्रावधान,अधिसूचना क्र एफ 1-1/2012/1-3 दिनाँक 17जनवरी 2012 को अधिसूचना जारी अनुसार
“इन् नियमों में अथवा तत्समय प्रवृत किशी अन्य अधिनियम, आदेश ,निर्देश ,नियम अथवा विधि में अंतर्विष्ट किसी बात के होते हुए भी ,बस्तर तथा सरगुजा संभाग के अंतर्गत आने वाले जिलों के मात्र स्थानीय निवासी ही ,इस अधिसूचना के जारी होने के दिनाँक से दो वर्ष की कालावधी के लिए ,संबंधित जिलों के विभिन्न विभागों में जिला संवर्ग के तृतीय श्रेणी तथा चतुर्थ श्रेणी के पदों में उद्भूत रिक्तियों पर भर्ती हेतु पात्र होंगे “
उक्त अधिसूचना को सामान्य प्रशासन विभाग छ ग शासन ने दिनाँक 23 अगस्त 2020 को दो वर्ष के लिए बढ़ाते हुए दिनाँक01 जनवरी2019 से 31 दिसंबर 2021तक करते हुए कोरबा व गौरेला ,पेंड्रा मरवाही, को शामिल किया है*
इस अधिसूचना के जारी होने के बाद गवर्नमेंट एम्प्लाइज वेलफेयर एसोसिएशन ने स्टॉफ नर्स के पद व सहायक शिक्षक व शिक्षक के तृतीय श्रेणी के पदों की नियुक्ति में स्थानीय निवासी को भर्ती करने की मांग बस्तर संभाग के कमिश्नर मा जी आर चुरेंद्र से की गई जिस पर कमिश्नर साहब ने दिनाँक 04 फरवरी 2021 को नोडल अधिकारी व संयुक्त संचालक स्वास्थ्य सेवा बस्तर संभाग को पत्र लिखकर 08 फरवरी 21 उपस्थित होकर वस्तुस्थिति से अवगत कराने निर्देशित किया तथा शिक्षा विभाग ने 14580 शिक्षक संवर्ग के पदों पर की जा रही भर्ती विज्ञापन 09 मार्च 2019 में स्थानीय निवासियों को नियुक्ति से वंचित करने के लिए लागू नहीं होने संबंधी अधिसूचना जारी सामान्य प्रशासन विभाग से 30 जनवरी2020 जारी करवा दी ।
इस तरह पदोन्नति में आरक्षण व उत्कृष्ट अंग्रेजी भाषा के विद्यालयों में आरक्षण से वंचित करने के बाद बस्तर बिलासपुर सरगुजा में निवासरत 5वी अनुसूची प्रभवशिल स्थानों के स्थानीय निवासियों के लिए लागू रिक्त पदों की भर्ती से वंचित कर दी है ।
गवर्नमेंट एम्पलाइज वेलफेयर एसोसिएशन के प्रदेश उपाध्यक्ष भोला राम मरकाम ,जिला अध्यक्ष बस्तर एम के राणा ,नारायणपुर जिला के अध्यक्ष मेहतु राम कुरेटि ,कोंडागॉव के अध्यक्ष सूदन कोर्राम व सरगुजा संभाग के निरंजन एक्का ने सामान्य प्रशासन विभाग के संसोधनअधिसूचना दिनाँक 30 जनवरी 2020 को तत्काल निरस्त कर शिक्षक संवर्ग की 14580 पदों के सरगुजा ,बिलासपुर, बस्तर संभाग के लिए आरक्षित अधिसूचितआदेश को यथावत रखते हुए पूर्व में जारी अधिसूचना के प्रावधानों अनुसार स्थानीय लोगों से ही भर्ती करने की मांग की है साथ ही मांगे पूरी नही होने पर आंदोलन की धमकी दी है ।
सादर प्रकाशित हेतु

    * *कृष्णकुमार नवरंग*
            प्रांताध्यक्ष 

गवर्नमेंट एम्पलाइज वेलफेयर एसोसिएशन छत्तीसगढ़
पं क्र 122201956673

Mo 7898154376