बिग ब्रेकिंग : छत्तीसगढ़ में लगेगा लॉक डाउन !… CM भूपेश बघेल आज मंत्रियों के साथ करेंगे बड़ी बैठक… कोरोना पर हो सकता है बड़ा फैसला… इन मुद्दों पर होगी चर्चा

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

रायपुर छत्तीसगढ़ में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो गया है। कोविड-19 संक्रमण से उत्पन्न परिस्थितियों पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कल 7 अप्रैल को प्रदेश के सभी संभाग मुख्यालयों के विभिन्न समाज- प्रमुखों एवं सामाजिक संगठनों से चर्चा करेंगे।

सीएम बघेल दोपहर 12 बजे मुख्यमंत्री निवास , रायपुर से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से जुड़ेंगे तथा विभिन्न समाज प्रमुखों व समाजसेवी संस्थाओं से (जो जहां हैं वहीं से) वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़ने की व्यवस्था की जाएगी।
इस अवसर पर कोविड संक्रमण से बचने के उपायों और उसमें सभी पक्षों के सहयोग को लेकर विचार-विमर्श किया जाएगा।

स्वास्थ्य मंत्रालय की बैठक में शामिल हुए मंत्री टीएस सिंहदेव, लॉकडाउन सहित इन मुद्दों पर हुई चर्चा

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने राज्य में कोरोना संक्रमण के प्रभावी नियंत्रण के लिए भारत सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का सख्ती से पालन किए जाने के साथ ही कोरोना टेस्टिंग की संख्या में बढ़ोतरी के साथ ही वृहद पैमाने पर कोरोना वैक्सीनेशन किया जा रहा है। राज्य में रोजाना 3 से 4 लाख लोगों को कोरोना से बचाव के टीके लगाए जा रहे हैं तथा 36 से 40 हजार लोगों की कोरोना संक्रमण की जांच की जा रही है। स्वास्थ्य मंत्री टी.एस. सिंहदेव ने यह जानकारी केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन द्वारा कोरोना संक्रमण के रोकथाम के उपायों एवं वैैक्सीनेशन के संबंध में आयोजित राज्य के स्वास्थ्य मंत्रियों की वर्चुअल बैठक में दी गई। इस वर्चुअल बैठक में देश के 11 राज्यों के स्वास्थ्य मंत्री एवं वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए।

छत्तीसगढ़ के स्वास्थ्य मंत्री ने इस वर्चुअल बैठक में जानकारी दी कि छत्तीसगढ़ में बीते दो माह में कोरोना संक्रमण तेज हुआ है। इसको ध्यान में रखते हुए राज्य सरकार द्वारा कोरोना संक्रमितों की टेस्टिंग की संख्या में वृद्धि किए जाने के साथ ही कोरोना वैक्सीनेशन का कार्य भी युद्ध स्तर पर कराया जा रहा है। उन्होंने बताया कि कोरोना टेस्ट की संख्या में बढ़ोतरी होने से संक्रमितों के पहचान की संख्या में भी वृद्धि हुई है। चिन्हित संक्रमितों का चिकित्सालयों एवं होम आइसोलेशन के माध्यम से प्रभावी इलाज किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि छत्तीसगढ़ राज्य में गाइडलाइन का कड़ाई से पालन, कोरोना टेस्टिंग एवं वैक्सीनेशन की वजह से यह उम्मीद है कि जल्द ही कोरोना संक्रमण कम हो जाएगा।