व्यवस्थाओं की जानकारी रखें, परेशानियों से बचें- जिला कलेक्टर रमेश शर्मा

आंतकित होने की नही सतर्क रहने की जरूरत है।

कवर्धा। जिला कलेक्टर रमेश कुमार शर्मा ने जिले में शासन-प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना नियंत्रण के लिए किए गए तमाम व्यवस्थाओं की जानकारी रखने व समय आने पर इसका उपयोग करने की अपील की है। उन्होंने तमाम व्यवस्थाओं के बारे में विस्तार से बताया व कहा कि कोविड मरीजों या नेगेटिव लक्षण वाले मरीजों का चिन्हांकित करके धैर्य पूर्वक निर्णय लेने की आवश्यकता है, जिससे उपचार की सेवाएं आसानी से शुरू की जा सके। उन्होंने बताया कि किन मरीजों को कहा ले जाएं यह समझें-

जिला अस्पताल- ऐसे मरीज जिनके पास कोविड रिपोर्ट नही है अथवा जिनका लक्षण है लेकिन कोविड रिपोर्ट नेगेटिव है, तो ऐसे मरीज को तत्काल जिला अस्पताल में भर्ती कराएं।

डेडिकेटेड कोविड अस्पताल- ऐसे तमाम मरीज जिनका कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव है व जिनका ऑक्सीजन सेचुरेशन 90 से नीचे है व आपातकालीन स्थिति में हैं, उन्हें जिला अस्पताल के बाजू में स्थित डेडिकेटेड कोविड अस्पताल लेकर जाएं।

कोविड केयर सेंटर- ऐसे समस्त मरीज जिनकी कोविड रिपोर्ट पॉजिटिव है , बहुत अधिक आपात स्थिति नही है, लेकिन सांस लेने में दिक्कत हो रही है तो नॉर्मल फ्लो पर ऑक्सीजन उपलब्ध कराकर स्थिति को सामान्य करने के लिए महाराज पुर स्थित कोविड केयर सेंटर में ले जाया जा सकता है। इसके अतिरिक्त उन तमाम मरीजों के लिए भी यहां व्यवस्था है,जो कोविड पॉजिटिव हैं और होम आइसोलेशन में नही सकते हैं। उन सभी को कोविड केयर सेंटर में रखा जा सकता है।

हेल्पलाइन नम्बर्स का करें उपयोग

होम आइसोलेशन में रहने वाले मरीजों के लिए स्वास्थ्य विभाग की ओर से हेल्पलाइन नंबर्स जारी किया गया है। किसी भी प्रकार की शारीरिक या मानसिक दिक्कत होने पर इन नम्बर्स पर अवश्य सम्पर्क करें-

विकासखण्ड कवर्धा( पिपरिया) – 7722841678

विकासखण्ड सहसपुर लोहार- 9399704536

विकासखण्ड पंडरिया- 8982323190

विकासखण्ड बोड़ला- 9399445642

जिला कंट्रोल रूम होम आइसोलेशन कवर्धा- -8085145441

  • 9685602972
  • 7879591918
  • 7415809459 दवाओं के सम्बंध में रखें जानकारी
  • कोविड पॉजिटिव मरीज के सम्पर्क में आने पर अथवा लक्षण होने पर तत्काल कोविड टेस्ट कराएं। एंटीजन टेस्ट रिपोर्ट नेगेटिव आने पर लक्षण युक्त लोग ट्रू नॉट अथवा आर टी पी आर रिपोर्ट का इंतजार न करें बल्कि तत्काल दवा लेकर उपचार शुरू करें।
    राज्य शासन ने ऐसे तमाम लोगों की सुविधा के लिए मितानिनों व टेस्टिंग सेंटर्स में दवा पैकेट उपलब्ध कराने का निर्णय लिया है। जिला प्रशासन द्वारा स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से यह सेवा आरम्भ कर दिया गया है, इसका लाभ लें।
  • यदि टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव है तब भी दवा टेस्टिंग सेंटर्स से लें भटकने की जरूरत नही है। होम आइसोलेट व्यक्ति हेल्पलाइन नम्बर्स का उपयोग करके सहयोग प्राप्त करें।