मोदी सरकार द्वारा पेट्रोल की क़ीमत 100 रु लीटर किये जाने की रिकार्ड तोड़ वृद्धि के विरोध में

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

कांग्रेस नेता विनोद तिवारी ने किया अनोखा विरोध प्रदर्शन

पेट्रोल पम्प भी सड़कों पर घुम कर रहे मूल्य वृद्धि का विरोध

रायपुर 3 जून – देश में पिछले एक माह के दौरान पेट्रोल की क़ीमतो में 17 बार वृद्धि की गई, पेट्रोल की क़ीमत 100₹ के पार होने का रिकार्ड मोदी जी की सरकार ने अपने नाम पर स्थापित कर लिया है, पेट्रोलियम पदार्थ में लगातार वृद्धि होने से लोगों का बजट पूरी तरह से लड़खड़ा गया है लोगों का जीवन और कठिन हो गया है ।

छत्तीसगढ़ कांग्रेस के युवा नेता विनोद तिवारी ने पेट्रोल की क़ीमत 100₹ रुपया पार करने के विरोध में अनोखा प्रदर्शन किया हू बहु 6 फ़िट के पेट्रोल पम्प तैयार किये गये उस पर मोदी आयल लिखा हुआ था साथ ये भी लिखा है की देश में पेट्रोल 100₹ के पार ये है मोदी जी का अत्याचार ।

पेट्रोल पम्प के अंदर चल रहे कार्यकर्ताओं ने अपने चहेरे पर प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी का मुखौटा भी लगा रखा था ये पेट्रोल पम्प सड़क पर रेंग रहे थे ये एक कौतूहल का विषय बन गया था राह चलते लोग विडियो बना रहे थे कोई सेल्फ़ी ले कर सोशल मीडिया पर डाल रहा था क्यूँकि ये लोगों की रोज़मर्रा से जुड़ा विषय है हर व्यक्ति इस मूल्य वृद्धि से पीड़ित प्रभावित है डीज़ल की क़ीमत बढ़ने से माल ढुलाई भाड़ा भी बढ़ गया जिससे अनाज सब्ज़ी दवा इंसान के प्रयोग में आने वाली सभी चीज़ें प्रभावित हो गई है ऐसी कोई वस्तु नही जो इस मूल्य वृद्धि से अछूती हो ।

कांग्रेस नेता विनोद तिवारी ने कहा की 5 राज्यों में हो रहे चुनाव के निपटते ही केंद्र में बैठी मोदी सरकार ने सिर्फ़ 1 माह में 17 बार मूल्य वृद्धि की धीरे-धीरे पेट्रोलियम पदार्थों की क़ीमत को 100₹ प्लस कर देना बहुत ही चिंताजनक और शर्मनाक है ये लोग अपनी जेबें भरने के लिये देशवसियों के जेब में डाका डाल रहे है जबकि विश्व मार्केट में तेल के मूल्य वृद्धि ना के बराबर हुई है तो फिर ये लोग आम जनता से वसूली क्यू कर रहे है ?

बात सिर्फ़ पेट्रोल डीज़ल की नही है आज गैस की क़ीमत को देख लो आसमान छू रही है लोगों के घर का बजट बिगड़ गया है ग्रहणीया घर कैसे चला रही है ये उनका दिल ही जनता है इस सरकार ने आम आदमी के जीवन में कितनी तकलीफ़ भर दी है ये दर्द वही समझ सकते है, ये सरकार तो ग्राहकों से मुनाफ़ा कमाने वाली सरकार बन गई है ।

विनोद तिवारी ने यह भी कहा की इस महामारी के दौर में भी मोदी सरकार वैक्सीन पर GST लगा दवाइयाँ और ऑक्सीजन पर GST लगा मुनाफ़ा कमाने से बाज नही आ रही है कितनी शर्मनाक बात है, खाने के सरसों तेल की क़ीमत एक साल पहले 70 रुपया थी आज 155 हो गई है मतलब खाने का तेल 80% महँगा हो गया हर तरफ़ महंगाई बढ़ा कर केंद्र की मोदी सरकार आम जनता का तेल निकालने में जुटी हुई है, जिसका जवाब देश की जनता मोदी सरकार को 2024 में होने वाले लोकसभा चुनाव में अवश्य देगी ।

5 घंटे तक सड़कों पर पेट्रोल पम्प घूमते रहे आज के इस विरोध में अपराजित तिवारी, रूबल मेहता ,लक्ष्य, जगबंधु भारती, विक्की वाधवानी, राम चक्रधारी, बिज्जू बंजारे, अभिनव पाठक, श्याम झा, संजू, रमेश निर्मलकर, शुभम ,राजेश टंडन , लक्की तरार साथी शामिल हुए

                           विनोद तिवारी
                         9406300000