जीवन मिशन के तहत 16 जिलों को मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सौगात…. 238 करोड़ 56 लाख 86 हजार रुपए की लागत के 658 कार्यों का वर्चुअली किया भूमि पूजन

by Jiwrakhan lal Ushare cggrameen nëws

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने मंगलवार को राजधानी रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के द्वाराजल जीवन मिशन के तहत 16 जिले में 238 करोड़ 56 लाख 86 हजार रूपए की लागत के 658 कार्यों का भूमि पूजन किया। मुख्यमंत्री बघेल ने इस अवसर पर रायगढ़, कांकेर, बीजापुर, दुर्ग, राजनांदगांव और रायपुर जिलों के जल जीवन मिशन के हितग्राहियों से रू-ब-रू चर्चा की। कार्यक्रम की अध्यक्षता विधानसभा अध्यक्ष डॉ चरणदास महंत ने की।
इस अवसर पर लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री गुरू रूद्रकुमार, कृषि मंत्री रविन्द्र चौबे, वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्री मोहम्मद अकबर, स्कूल शिक्षा मंत्री प्रेमसाय सिंह टेकाम, नगरीय प्रशासन मंत्री डॉ. शिव डहरिया, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, महिला एवं बाल विकास मंत्री श्रीमती अनिला भेंडिया, राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल और वरिष्ठ विधायक सत्यनारायण शर्मा, बृहस्पति सिंह भी उपस्थित थे। साथ ही मुख्य सचिव अमिताभ जैन, मुख्यमंत्री के अपर मुख्य सचिव सुब्रत साहू, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के सचिव सिद्धार्थ कोमल सिंह परदेशी, जल जीवन मिशन के संचालक एस प्रकाश, प्रमुख अभियंता, टीजी कोसरिया उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल वर्चुअल माध्यम से जल जीवन मिशन के इन कार्यों का भूमिपूजन किया। इनमें प्रमुख रूप से बालोद में 24 योजनाओं के लिए 7 करोड़ 69 लाख 14 हजार रूपए बलरामपुर जिले में 66 योजनाओं के लिए 5 करोड़ 65 लाख 4 हजार रूपए, बस्तर में 30 योजनाओं के लिए 14 करोड़ 47 लाख 22 हजार रूपए, बेमेतरा में 9 योजना के लिए 7 करोड़ 98 लाख 24 हजार रूपए, बीजापुर में 12 योजना के लिए 4 करोड़ 13 लाख 30 हजार रूपए, बिलासपुर में 77 योजना के लिए 26 करोड़ 11 लाख 21 हजार रूपए, धमतरी में 31 योजना के लिए 8 करोड़ 76 लाख 6 हजार रूपए, दुर्ग में 39 योजनाओं के लिए 21 करोड़ 48 लाख 76 हजार रूपए, गौरेला-पेंड्रा-मरवाही जिले में 27 योजना के लिए 7 करोड़ 19 लाख 72 हजार रूपए, जशपुर में 6 योजना के लिए 2 करोड़ 87 लाख 72 हजार रूपए, कांकेर जिले में 144 योजनाओं के लिए 47 करोड़ 41 लाख 15 हजार रूपए, नारायणपुर जिले में 7 योजना के लिए 7 करोड़ 94 लाख 90 हजार रूपए, रायगढ़ में 127 योजनाओं के लिए 53 करोड़ 40 लाख 65 हजार रूपए, रायपुर में 42 योजना के लिए 20 करोड़ 96 लाख 68 हजार रूपए, राजनांदगांव जिले के 16 योजना के लिए 4 करोड़ 69 लाख 75 हजार रूपए और सुकमा जिले में एक योजना के लिए 77 लाख 32 हजार रूपए के लागत वाले कार्य शामिल हैं।