अनियमित कर्मचारियों का चरणबद्ध आंदोलन कर नियमितीकरण के भरेंगे हुंकार, लेंगे जल समाधि- संजय एड़े (रायपुर जिलाध्यक्ष)* छत्तीसगढ़ संयुक्त

 

छत्तीसगढ़ संयुक्त अनियमित कर्मचारी महासंघ लगातार छत्तीसगढ़ के 1 लाख 80 हज़ार से अधिक अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण सहित 5 सूत्रीय मांगों को वर्तमान कांग्रेस सरकार से पूर्ण करवाने हेतु संघर्षिल है। प्रदेश अध्यक्ष रवि गढ़पाले ने बताया कि छत्तीसगढ़ के यशस्वी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की छत्तीसगढ़िया सरकार वर्तमान में अनियमित कर्मचारियों की मांगों को अनसुना कर रही है जबकि विधानसभा चुनाव 2018 के दौरान अनियमित कर्मचारियों के संघर्ष के समय उनके मंचो में वर्तमान सरकार के मुख्यमंत्री,विभिन्न कैबिनेट मंत्री, विभिन्न विधायक तथा अनेको जन प्रतिनिधियों ने जा जाकर 10 दिनों में नियमितीकरण का वायदा किया था और सभी अनियमित कर्मचारियों को नियमित करने, छटनी नही किये जाने एवं आउटसोर्सिंग बन्द किये जाने के मुद्दे को जन घोषणा पत्र में सम्मिलित किया गया था।
रायपुर जिला अध्यक्ष संजय एड़े ने कहा है कि, 7 चरणों का आंदोलन अनियमित कर्मचारियों द्वारा चालू कर दिया गया है। आर या पार नियमित इस बार के तर्ज पर मुहिम चल रही है, प्रथम चरण में 11 जुलाई को प्रदेश के समस्त जिला मुख्यालय में मशाल रैली निकाली गई और दूसरे चरण में 8 अगस्त से 14 अगस्त तक अगस्त क्रांति सप्ताह मनाया जावेगा, जिसके अंतर्गत 8 अगस्त को अनियमित कर्मी जल समाधि लेने का कार्यक्रम करेंगे।जलसमाधि को लेकर प्रदेश के लाखों अनियमित कर्मचारियों में एक सकारात्मक ऊर्जा की लहर चल पड़ी है।
प्रदेश कार्यसमिति के वरिष्ठ सदस्य एवं पूर्व संयोजक गोपाल प्रसाद साहू ने 2018 के अनियमित कर्मचारियों के क्रांतिकारी आंदोलन को याद किया, और आगे यह बताया कि, सरकार बने हुए 1000 दिन पूरे होने को है, परन्तु वायदा अनुसार अभी तक अनियमित कर्मचारी के 10 दिन के भीतर नियमितीकरण किये जाने की घोषणा पूर्ण होने का दिव्य स्वप्न साकार नही हुआ है, कुल मिलाकर तमाम अनियमित कर्मचारी और उनका संगठन अब उग्रता के साथ अनिश्चितकालीन आंदोलन की ओर अग्रसर होते दिखाई दे रहे है।