अनियमित महासंघ के अगस्त क्रांति सप्ताह का हुआ आगाज- संजय एड़े (जिलाध्यक्ष रायपुर)* *कार्यालयों में काली पट्टी बांध कर मौन रहकर कार्य कर रहे अनियमित कर्मी-संजय एड़े* अनियमित महासंघ के पंजीकृत संगठन और उनके सदस्य अपने अपने कार्यालय में काली पट्टी बांध कर मौन रहकर कार्य करना चालू कर दिया है और अपने कार्यालय प्रमुख को 14 अगस्त को मुख्यमंत्री के नाम 5 सूत्रीय मांगों का संघीय ज्ञापन सौपेंगे। रायपुर जिला अध्यक्ष श्री संजय एड़े ने बताया है कि, छत्तीसगढ़िया अनियमित कर्मचारी छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माण के बाद से ही ठगा जाता रहा है, पिछले डेढ़ दशक से अनियमित कर्मियों ने नियमितीकरण अथवा विभिन्न मांगों को लेकर पूर्ववर्ती सरकार एवं विपक्ष के राजनीतिक दलों से उनके मामले का निराकरण करने का अनुनय निवेदन किया गया। पुर्वर्ती सरकार एवं विपक्षी दलों ने सिवाय आश्वासन के अनियमित कर्मचारियों को कुछ नही दिया। वर्तमान में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की छत्तीसगढ़िया सरकार ने तो जनघोषणा पत्र में अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण किये का स्पष्ट उल्लेख किया गया है। बावजूद इसके लगभग 3 साल सरकार के बने होगये, वादा अनुसार 10 दिनों में प्रावधान बना कर नियमितीकरण की घोषणा करने से बचती दिखाई दे रही है सरकार। इसलिये महासंघ के सदस्यों की मांग पर अनियमित कर्मचारी महासंघ 7 चरणों के आंदोलन को चालू कर दिया है। प्रदर्शन में महासंघ के रायपुर जिला अध्यक्ष संजय एड़े, सचिव खेमूलाल निषाद, उपाध्यक्ष अजीत, होरीलाल, मीडिया प्रभारी-ओम सच्चिदानंद, संजय, लोकेश, हिमांशु, बालेन्द्र, देवेन्द्र यादव, महिला अध्यक्ष श्रीमती सावित्री वर्मा, नीलू, रीता, शंकुतला, संजना, राव, महेन्द्र, हरीश, शैलेन्द्र, कल्याण, तामेश, खेमराज, भूपेन्द्र, चंद्रप्रकाश, प्रेम एवं अन्य अनियमित कर्मचारी उपस्थित रहे।

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

*अनियमित महासंघ के अगस्त क्रांति सप्ताह का हुआ आगाज-

*कार्यालयों में काली पट्टी बांध कर मौन रहकर कार्य कर रहे अनियमित कर्मी-संजय एड़े*

अनियमित महासंघ के पंजीकृत संगठन और उनके सदस्य अपने अपने कार्यालय में काली पट्टी बांध कर मौन रहकर कार्य करना चालू कर दिया है और अपने कार्यालय प्रमुख को 14 अगस्त को मुख्यमंत्री के नाम 5 सूत्रीय मांगों का संघीय ज्ञापन सौपेंगे।
रायपुर जिला अध्यक्ष श्री संजय एड़े ने बताया है कि, छत्तीसगढ़िया अनियमित कर्मचारी छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माण के बाद से ही ठगा जाता रहा है, पिछले डेढ़ दशक से अनियमित कर्मियों ने नियमितीकरण अथवा विभिन्न मांगों को लेकर पूर्ववर्ती सरकार एवं विपक्ष के राजनीतिक दलों से उनके मामले का निराकरण करने का अनुनय निवेदन किया गया। पुर्वर्ती सरकार एवं विपक्षी दलों ने सिवाय आश्वासन के अनियमित कर्मचारियों को कुछ नही दिया। वर्तमान में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की छत्तीसगढ़िया सरकार ने तो जनघोषणा पत्र में अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण किये का स्पष्ट उल्लेख किया गया है। बावजूद इसके लगभग 3 साल सरकार के बने होगये, वादा अनुसार 10 दिनों में प्रावधान बना कर नियमितीकरण की घोषणा करने से बचती दिखाई दे रही है सरकार। इसलिये महासंघ के सदस्यों की मांग पर अनियमित कर्मचारी महासंघ 7 चरणों के आंदोलन को चालू कर दिया है। प्रदर्शन में महासंघ के रायपुर जिला अध्यक्ष संजय एड़े, सचिव खेमूलाल निषाद, उपाध्यक्ष अजीत, होरीलाल, मीडिया प्रभारी-ओम सच्चिदानंद, संजय, लोकेश, हिमांशु, बालेन्द्र, देवेन्द्र यादव, महिला अध्यक्ष श्रीमती सावित्री वर्मा, नीलू, रीता, शंकुतला, संजना, राव, महेन्द्र, हरीश, शैलेन्द्र, कल्याण, तामेश, खेमराज, भूपेन्द्र, चंद्रप्रकाश, प्रेम एवं अन्य अनियमित कर्मचारी उपस्थित रहे।

*कार्यालयों में काली पट्टी बांध कर मौन रहकर कार्य कर रहे अनियमित कर्मी-संजय एड़े*

अनियमित महासंघ के पंजीकृत संगठन और उनके सदस्य अपने अपने कार्यालय में काली पट्टी बांध कर मौन रहकर कार्य करना चालू कर दिया है और अपने कार्यालय प्रमुख को 14 अगस्त को मुख्यमंत्री के नाम 5 सूत्रीय मांगों का संघीय ज्ञापन सौपेंगे।
रायपुर जिला अध्यक्ष श्री संजय एड़े ने बताया है कि, छत्तीसगढ़िया अनियमित कर्मचारी छत्तीसगढ़ राज्य के निर्माण के बाद से ही ठगा जाता रहा है, पिछले डेढ़ दशक से अनियमित कर्मियों ने नियमितीकरण अथवा विभिन्न मांगों को लेकर पूर्ववर्ती सरकार एवं विपक्ष के राजनीतिक दलों से उनके मामले का निराकरण करने का अनुनय निवेदन किया गया। पुर्वर्ती सरकार एवं विपक्षी दलों ने सिवाय आश्वासन के अनियमित कर्मचारियों को कुछ नही दिया। वर्तमान में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की छत्तीसगढ़िया सरकार ने तो जनघोषणा पत्र में अनियमित कर्मचारियों के नियमितीकरण किये का स्पष्ट उल्लेख किया गया है। बावजूद इसके लगभग 3 साल सरकार के बने होगये, वादा अनुसार 10 दिनों में प्रावधान बना कर नियमितीकरण की घोषणा करने से बचती दिखाई दे रही है सरकार। इसलिये महासंघ के सदस्यों की मांग पर अनियमित कर्मचारी महासंघ 7 चरणों के आंदोलन को चालू कर दिया है। प्रदर्शन में महासंघ के रायपुर जिला अध्यक्ष संजय एड़े, सचिव खेमूलाल निषाद, उपाध्यक्ष अजीत, होरीलाल, मीडिया प्रभारी-ओम सच्चिदानंद, संजय, लोकेश, हिमांशु, बालेन्द्र, देवेन्द्र यादव, महिला अध्यक्ष श्रीमती सावित्री वर्मा, नीलू, रीता, शंकुतला, संजना, राव, महेन्द्र, हरीश, शैलेन्द्र, कल्याण, तामेश, खेमराज, भूपेन्द्र, चंद्रप्रकाश, प्रेम एवं अन्य अनियमित कर्मचारी उपस्थित रहे।