बरसते पानी में पगडंडियों पर चलकर हाथी से प्रभावितों के बीच पहुंचे खाद्य मंत्री श्री अमरजीत भगत*

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज हाथी से प्रभावितों की समस्याएं शीघ्र दूर करने अधिकारियों को दिए निर्देश*
रायपुर, 17 अगस्त 2021/ खाद्य एवं संस्कृति मंत्री श्री अमरजीत भगत मंगलवार को बरसते पानी में पगडंडियों पर चलते हुए मैनपाट विकासखण्ड के हाथी से प्रभावित परिवारों के बीच पहुंचे। उन्होंने ग्राम परपटिया, डांड़केसरा, कण्डराजा एवं पतरापारा पहुंचकर हाथियों द्वारा क्षतिग्रस्त किए गए मकानों एवं फसलों का जायजा लिया। मंत्री श्री भगत ने परपटिया एवं डांड़केसरा में हाथी के हमले से जान गवाने वाले मृतकों के घर पहुंचकर परिजनों से मिलकर सांत्वना दी और राज्य सरकार की ओर से हर संभव मदद का भरोसा दिलाया। श्री भगत हाथी  प्रभावित अन्य परिवार के लोगों से मिलकर उनकी समस्याएं सुनी और शीघ्र निराकरण हेतु अधिकारियों को निर्देश दिए। उन्होंने हाथी के हमले से हुए क्षति का आंकलन करते हुए मुआवजा राशि हेतु तत्काल प्रकरण तैयार करने के निर्देश वन विभाग के अधिकारियों को दिए।

मंत्री श्री भगत ने प्रभावित परिवारों के प्रति सहानुभूति व्यक्त करते हुए कहा कि हाथी मानव द्धंद्ध से जन-धन की हानि हो रही है, इसके रोकने के लिए सरकार हर संभव प्रयास कर रही है। लोगों को हाथी के हमले से बचाने तथा जन हानि कम से कम हो इसके लिए वन विभाग के द्वारा प्रयास किए जा रहे हैं। सोलर फैसिंग के लिए प्रस्ताव तैयार करने के निर्देश दिए। वन विभाग को हाथी विचरण का सटीक अनुमान लगाकर समय पर लोगों को अवगत कराना होगा। साथ ही वन विभाग तथा अन्य विभागीय कर्मचारियों को तत्काल आवश्यक सहायता पहुंचाने के निर्देश दिए गए है।
इस  मौके पर छत्तीसगढ़ गौसेवा आयोग के सदस्य श्री अटल बिहारी यादव, सीईओ जिला पंचायत श्री विनय कुमार लंगेह, मुख्य वन संरक्षक श्री अनुराग श्रीवास्तव, वन मंडलाधिकारी श्री पंकज कमल, एसडीएम सुश्री दीपिका नेताम सहित अन्य स्थानीय जन प्रतिनिधि, तथा अधिकारी-कर्मचारी एवं ग्रामीण मौजूद थे।