जीपी-II सीपीएल द्वारा मेडिकल व इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा की कोचिंग के लिए ऑनलाइन केंद्र का अनावरण

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

 

– आदिवासी अंचल तमनार के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों के लिए उच्च शिक्षा के क्षेत्र में अनूठी पहल

– 30 प्रतिभाशाली विद्यार्थी करेंगे मेडिकल तथा इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षाओं की निःशुल्क तैयारी

 

अगस्त 27; 2021, रायगढ़: गारे पलमा-II कोलियरीज प्राइवेट लिमिटेड (जीपी-II सीपीएल) के तमनार विकासखंड के प्रतिभाशाली विद्यार्थियों को इंजीनियरिंग तथा मेडिकल प्रवेश परीक्षा के लिए नि:शुल्क कोचिंग प्रदान करने के लिए ग्राम कुंजेमुरा में ऑनलाइन केंद्र का उद्घाटन समारोह अदाणी फाउंडेशन ने आयोजित किया। केंद्र का उदघाटन मुख्य अतिथि श्रीमती विद्यावती सिदार – अध्यक्ष शाला विकास समिति तथा अदाणी के क्लस्टर हेड श्री मुकेश सक्सेना द्वारा दीप प्रज्वलित और फीता काटकर किया गया। कार्यक्रम के दौरान श्रीमती सिदार ने ऑनलाइन केंद्र को तमनार विकासखंड के युवाओं के भविष्य के लिए बहुपयोगी बताया तथा यह आशा किया, कि चयनित युवा केंद्र में उपलब्ध कराई गयी आधुनिक सुविधाओं से लाभान्वित होंगे व अपने लक्ष्य को प्राप्त करेंगे |

 

मई – जून के महीने में फाउंडेशन द्वारा चलाये गए चयन प्रक्रिया के बाद तमनार और आस पास के क्षेत्रों से कुल 30 बच्चों को ऑनलाइन कोचिंग के लिए चुना गया था। विद्यार्थियों को राष्ट्रीय स्तर की प्रवेश परीक्षा के लिए तैयार करने हेतु इस केंद्र में 30 डेस्कटॉप कंप्यूटर, इंटरनेट, स्मार्ट स्क्रीन इत्यादि की सुविधायें प्रदान की गई है केंद्र में विद्यार्थियों का मार्गदर्शन रांची में स्थित कोचिंग “स्पंदन”(एस डी मिश्रा क्लासेस) के प्रशिक्षित शिक्षको द्वारा किया जाएगा जो की न सिर्फ परीक्षा की तैयारी अपितु इंटरव्यू इत्यादि के लिए भी कोचिंग देंगे।

 

समारोह में विशिष्ट अतिथि श्री चंद्रकांत बाले – वरिष्ठ प्रबंधक महाजेनको, श्री लक्ष्मण प्रसाद पटेल – थाना प्रभारी तमनार, श्री एफ एल सिदार – विकासखण्ड शिक्षाधिकारी, श्री जयपाल भगत – सरपंच कुंजेमुरा, श्री बिहारी पटेल – ब्लाक अध्यक्ष, श्री सुरेंद्र सिदार -अध्यक्ष किसान समिति एवं अन्य विशिष्टगण, श्री माणिकचंद पटनायक, श्री मुकुंद मुरारी पटनायक , श्री बसंत पटनायक, श्री कैलाश गुप्ता उपस्थित थे।

 

अदाणी फाउंडेशन की यह पहल विगत दो महीने पूर्व शुरू हुई थी जिसमें तमनार विकासखंड के 185 बच्चों ने पंजीकरण किया था। 11 जुलाई को हुई प्रवेश परीक्षा में 138 बच्चे शामिल हुए थे। चयन परीक्षा में उच्चतम अंक प्राप्त करने वाले 63 बच्चों की काउंसलिंग की गई थी, जिसमें 30 विद्यार्थी चयनित हुए। इस सूची में अनुसूचित जनजाति , अनुसूचित जाति , अन्य पिछड़ा वर्ग तथा सामान्य वर्ग के बच्चे शामिल हैं। 3 अतिरिक्त विद्यार्थियों को प्रतीक्षा सूची में रखा गया है। 30 विद्यार्थियों की सूची में से 19 विद्यार्थियों का चयन मेडिकल तथा 11 बच्चों का चयन इंजीनियरिंग के लिए किया गया है। खास बात यह है कि अंचल की 17 बालिकाएँ इस प्रवेश परीक्षा की तैयारी में जुटेंगी। चयनित क्षेत्रों को अदाणी फाउंडेशन द्वारा शिक्षा सत्र 2021-22 तथा 2022-23 के दौरान मेडिकल तथा इंजीनियरिंग प्रवेश परीक्षा का गहन प्रशिक्षण पूर्णतः निःशुल्क प्रदान किया जाएगा।

 

गौरतलब है कि आदिवासी अंचल तमनार के प्रतिभावान विद्यार्थी विभिन्न प्रतियोगी प्रवेश परीक्षाओं जैसे IIT/JEE/NEET में उचित प्रशिक्षण के अभाव में चयन होने से वंचित रह जाते हैं, ऐसे बच्चों को कोचिंग सुविधा प्रदान करने के उद्देश्य से अदाणी फाउंडेशन की सार्थक पहल के चलते राष्ट्रीय स्तर के संस्थानों के अनुभवी प्रशिक्षकों द्वारा गहन प्रशिक्षण और मार्गदर्शन दिया जाएगा। इसके साथ ही विद्यार्थियों को संबंधित विषयों की अध्ययन सामग्री तथा नोट्स आदि निःशुल्क उपलब्ध कराए जाएंगे। फाउंडेशन द्वारा लिया गया यह कदम, बच्चों की उच्च शिक्षा की राह में सार्थक पहल है और यह उन्हें भविष्य में ऊँची उड़ान भरने में महत्वपूर्ण योगदान देगी। साथ ही साथ आने वाले समय में फाउंडेशन की यह अभिनव पहल इस आदिवासी अंचल के लिए मील का पत्थर साबित होगी।