लाखों रूपये की अफीम एवं डोडा की तस्करी/बिक्री करते 02 अंतर्राज्यीय तस्कर गिरफ्तार*

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज
💥 *थाना आमानाका क्षेत्रांतर्गत टाटीबंध स्थित नया बाई पास रोड़ में आरोपियों को ट्रक वाहन में अफीम व डोड़ा की तस्करी करते रंगे हाथ किया गया गिरफ्तार।*
💥 *आरोपियान ट्रक के केबिन में छिपाकर रखें थे अफीम व डोडा को।*
💥 *आरोपियान अफीम व डोडा को झारखण्ड़ के गुमला से लाकर, कर रहे थे तस्करी/बिक्री।*
💥 *मांग के आधार पर अलग – अलग राज्यों में लोगों को करते है बिक्री।*
💥 *नशे के कारोबार पर अंकुश लगाने की दिशा में एक और बड़ी कार्यवाही।*
💥 *आरोपियों के कब्जे से 01 किलो 450 ग्राम अफीम कीमती लगभग 3,00,000/- रूपये एवं 29 किलो 200 ग्राम डोडा कीमती लगभग 1,50,000/- रूपये किया गया है जप्त।*
💥 *अफीम एवं डोडा तस्करी हेतु प्रयुक्त ट्रक क्रमांक सी जी/04/एच व्ही/9645 कीमती लगभग 20,00,000/- रूपये को भी किया गया है जप्त।*
💥 *आरोपियों से जप्त संपूर्ण मशरूका की कुल कीमत है लगभग 24,50,000/- रूपये।*
💥 *आरोपियों के विरूद्व थाना आमानाका में अपराध क्रमांक 252/21 धारा 15ख, 18ख नारकोटिक्स एक्ट का अपराध किया गया है पंजीबद्ध।*
💥 *नशे का काला कारोबार करने वाले कारोबारियों के विरूद्ध रायपुर पुलिस का यह अभियान लगातार रहेगा जारी।*
विवरण – पुलिस अधीक्षक महोदय श्री प्रशांत अग्रवाल द्वारा रायपुर पुलिस के समस्त पुलिस राजपत्रित अधिकारियों एवं थाना प्रभारियों को नशे का काला कारोबार करने वाले लोगों के विरूद्ध विशेष अभियान चलाकर इस पर प्रभावी रूप से अंकुश लगाने आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये है। जिस पर समस्त थाना प्रभारियों द्वारा अपने – अपने थाना क्षेत्र में मुखबीर लगाकर लगातार पेट्रोलिंग व सूचना संकलन कर नशे का काला कारोबार करने वाले कारोबारियों के संबंध में सूचना एकत्रित की जा रही है। इसी तारतम्य में दिनांक 15.09.21 को थाना आमानाका पुलिस की टीम को सूचना प्राप्त हुई कि कुछ व्यक्तियों द्वारा ट्रक वाहन में घुम – घुम कर अफीम एवं डोडा की तस्करी व बिक्री की जा रहीं है तथा ट्रक आमानाका के टाटीबंध की ओर जा रहीं है। सूचना को गंभीरता से लेते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक पश्चिम श्री आकाश राव गिरपुंजे एवं नगर पुलिस अधीक्षक आजाद चैक श्री पुष्पेन्द्र नायक द्वारा थाना प्रभारी आमानाका श्री राजेश सिंह को तस्करों को अफीम व डोडा के साथ रंगे हाथ गिरफ्तार करने हेतु आवश्यक दिशा निर्देश दिये गये। जिस पर थाना प्रभारी आमानाका के नेतृत्व में थाना आमानाका पुलिस की टीम द्वारा मुखबीर द्वारा बताए गए हुलियों के व्यक्तियों एवं ट्रक वाहन की पतासाजी प्रारंभ करते हुए ट्रैप पार्टी लगाया गया। टीम द्वारा पतासाजी करने के दौरान ट्रक वाहन को थाना आमानाका क्षेत्रांतर्गत टाटीबंध स्थित नया बाई पास रोड़ पास चिन्हांकित कर रोका गया। ट्रक के अंदर दो व्यक्ति सवार थे जिनसे पूछताछ करने पर अपना नाम मनदीप सिंह रंधावा एवं रंजीत सिंह ढ़ील्लन निवासी नागपुर (महाराष्ट्र) का होना बताए। टीम के सदस्यों द्वारा ट्रक की तलाशी लेने पर ट्रक की केबिन में अफीम एवं डोडा रखा होना पाया गया। अफीम एवं डोडा रखने के संबंध में किसी प्रकार का वैध दस्तावेज या कागजात प्रस्तुत करने कहने पर उक्त दोनों व्यक्ति के द्वारा किसी भी प्रकार का कोई वैध दस्तावेज या कागजात प्रस्तुत न कर टीम को लगातार गुमराह करने का प्रयास किया जा रहा था कि टीम के सदस्यों द्वारा कड़ाई से पूछताछ करने पर आरोपियों ने बताया गया कि वे लोग अफीम व डोडा को झारखण्ड के गुमला से लेकर आ रहे थे तथा मांग के अनुसार अलग – अलग राज्यों में लोगों के पास बिक्री करते है। जिस पर टीम द्वारा आरोपी मनदीप सिंह रंधावा एवं रंजीत सिंह ढ़ील्लन को गिरफ्तार कर उनके कब्जे से 01 किलो 450 ग्राम अफीम कीमती लगभग 3,00,000/- रूपये, 29 किलो 200 ग्राम डोडा कीमती लगभग 1,50,000/- रूपये, तथा अफीम एवं डोडा तस्करी हेतु प्रयुक्त ट्रक क्रमांक सी जी/04/एच व्ही/9645 कीमती लगभग 20,00,000/- रूपये जुमला कीमती लगभग 24,50,000/- रूपये जप्त कर आरोपियों के विरूद्ध थाना आमानाका में अपराध क्रमांक 252/21 धारा 15ख, 18ख नारकोटिक्स एक्ट का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों के विरूद्ध अग्रिम कार्यवाही किया गया। नशे का काला कारोबार करने वाले कारोबारियों के विरूद्ध रायपुर पुलिस का यह अभियान लगातार जारी रहेगा।
गिरफ्तार आरोपी
*01. मनदीप सिंह रंधावा पिता अमृत सिंह रंधावा उम्र 42 साल निवासी नारी रोड़ गुरूतेग बहादुर नगर थाना जरीपटका जिला नागपुर (महाराष्ट्र) ।*

*02. रंजीत सिंह ढ़ील्लन पिता जगजीत सिंह ढ़ील्लन उम्र 32 साल निवासी निवासी नारी रोड़ गुरूतेग बहादुर नगर थाना जरीपटका जिला नागपुर (महाराष्ट्र)।*

*आरोपियों को गिरफ्तार करने में उपनिरीक्षक राणा सिंह ठाकुर, प्र.आर. संजय सिंह, आर. कृष्ण कुमार ठाकुर, मुकेश राजपूत, अनिल राजपूत एवं तारकिशोर सिंह की महत्वपूर्ण भूमिंका रहीं।*