गोंड़ समाज के युवक-युवती परिचय सम्मेलन व शपथ ग्रहण

समारोह में हजारों की तादाद में समाजिक जन पहुंचे*
आदिशक्ति मां अंगारमोती ट्रस्ट का शपथ ग्रहण एवं गोंड़ समाज के विवाह योग्य युवक-युवती परिचय सम्मेलन युवा महोत्सव का आयोजन आदिशक्ति मां अंगारमोती प्रांगण गंगरेल जिला धमतरी छत्तीसगढ़ में हजारों की तादाद में सामाजिकजन की उपस्थिति में हर्षोल्लास पूर्वक संपन्न हुआ। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि माननीय श्री नीलकंठ टेकाम जी आईएएस छत्तीसगढ़ ,अध्यक्षता- माननीय जीवराखन लाल मरई अध्यक्ष आदिशक्ति मां अंगारमोती ट्रस्ट गंगरेल ,विशिष्ट अतिथि के रूप में माननीय श्री सदेसिह कोमरे प्रांतीय उपाध्यक्ष, आरसी ध्रुव जिला अध्यक्ष बिलासपुर, आसकरण धुर्वे जिला अध्यक्ष कबीरधाम, श्रीराम ध्रुव जिला अध्यक्ष बलोदा बाजार, मनमोहन सिंह गोंड़ जिला अध्यक्ष जांजगीर चांपा, हरेंद्र नेताम जिला अध्यक्ष दुर्ग, अकत ध्रुव जिला अध्यक्ष मुंगेली की उपस्थिति में संपन्न हुआ। मुख्य अतिथि द्वारा ट्रस्ट के अध्यक्ष जीवराखन लाल मरई, उपाध्यक्ष पंकज ध्रुव, सचिव आर. एन. ध्रुव,सहसचिव ढालूराम ध्रुव, कोषाध्यक्ष ओंकार नेताम को आदिशक्ति मां अंगारमोती प्रांगण के निरंतर विकास हेतु पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाई । तत्पश्चात गोंड़ समाज के युवक युवती परिचय सम्मेलन का शुभारंभ हुआ। परिचय सम्मेलन में समाज के द्वितीय श्रेणी अधिकारी से लेकर किसान-मजदूर तक समाज के युवक-युवतियों ने सैकड़ों की संख्या में उपस्थिति प्रदान कर मंच में निर्भीकता से परिचय दिए। इस अवसर पर मुख्य अतिथि श्री टेकाम जी द्वारा नव-मनोनीत पदाधिकारियों को हार्दिक शुभकामनाएं प्रेषित करते हुए कहा कि देश का एकमात्र सामाजिक ट्रस्ट आदिशक्ति मां अंगारमोती को हम सबको मिलकर संवर्धन एवं विकास में भागीदार बनना होगा।उन्होंने कहा कि युवक-युवती परिचय सम्मेलन समय की मांग है। पहले हमारी पहुंच एक मुड़ा क्षेत्र से दूसरे मुड़ा क्षेत्र ,तहसील से जिला तक ही था। लेकिन आज आवागमन के साधन बढ़ने से एक जिले से दूसरे जिले यहां तक एक प्रदेश से दूसरे प्रदेश तक वैवाहिक लेनदेन हो रहा है। इसलिए दूरियां बहुत कम हो गई है। आदिशक्ति मां अंगारमोती ट्रस्ट को माननीय श्री कवासी लखमा मंत्री आबकारी एवं उद्योग छत्तीसगढ़ शासन द्वारा इक्कीस हजार रुपये का भेंट उनके प्रतिनिधि डमरूधर मांझी जी द्वारा दी गई।कार्यक्रम में राष्ट्रीय रंग तरंग केकराखोली की टीम द्वारा दी गई सुंदर लोकनृत्य की प्रस्तुति को समाज द्वारा सराहा गया। इस अवसर पर रामजी ध्रुव, कोमल सिंह ठाकुर, सरजूराम ठाकुर, सरजूराम परते, मनराखन ठाकुर, बलीराम ध्रुव, ईश्वरसिंह ध्रुव, मानसिंह मरकाम, अर्जुनसिंह कोर्राम, जयपाल सिंह ठाकुर, डॉ.ए.आर.ठाकुर, सुदेसिंह मरकाम, सुदर्शन ठाकुर, विष्णु नेताम, भूपेन्द्र ध्रुव, हुलार सिंह कोर्राम, पी.आर.नेताम, अकबर राम कोर्राम, नकुल नेताम, परस नेताम, श्रीमती नन्दा ध्रुव, गणेश्वर ध्रुव, श्रीमती बुधन्तीन ध्रुव, श्रीमती गीता नेताम, ललित ठाकुर, उदय नेताम, समारू नेताम, श्रीमती अनिता ध्रुव वेद प्रकाश ध्रुव, तेजेंद्र ध्रुव, संतोष कुंजाम सहित बड़ी संख्या में समाज के लोग उपस्थित थे।