अदाणी फाउंडेशन के नवोदय कोचिंग से 8 विद्यार्थी चयनित

 

जवाहर नवोदय विद्यालय चयन परीक्षा में 8 बच्चों ने मारी बाजी

 

खरोरा – तिल्दा : अदाणी फाउंडेशन द्वारा संचालित नवोदय कोचिंग सेंटर इन दिनों एक खास वजह से सुर्खियां बटोर रही हैं। रायखेड़ा, गैतरा ,तराशिव व चिचोली गांव में संचालित नवोदय कोचिंग केंद्र के 8 बच्चों का चयन नवोदय विद्यालय के लिए हुआ है | शिक्षा सत्र 2021- 22 में दाखिला के लिए आयोजित प्रवेश परीक्षा के लिए तिल्दा विकासखंड में ग्रामीण व शहरी कोटा को मिलाकर कुल 20 सीट है | पिछले सप्ताह जारी परिणाम में नवोदय कोचिंग केंद्र, रायखेड़ा से 2 छात्र जिनका नाम संदीप वर्मा पिता लीलाधर वर्मा और वैष्णवी नायक पिता मनहरण नायक है जबकि ताराशिव केंद्र से 5 छात्र जिनका नाम सौरभ कुमार पिता संजय कुमार, मीनाक्षी पिता कमलेश कुमार, वासु वर्मा पिता सुखदेव वर्मा, तृप्ति सेन पिता बलदेव सेन और निधि शर्मा पिता अशोक शर्मा हैं। वहीं चिचोली केंद्र से 1 छात्र ने बाजी मारी जिनका नाम लक्ष्य साहू पिता यश साहू है। इस तरह कुल 8 छात्रों ने नवोदय विद्यालय माना, रायपुर में दाखिला के लिए अपनी सीट सुरक्षित की है। बच्चों की सफलता से ग्राम के सरपंच, उनके माता-पिता एवं ग्रामीणों ने प्रसन्नता जाहिर कर अदाणी फाउंडेशन को धन्यवाद दिया है।

 

रायपुर एनेर्जेन लिमिटेड की अदाणी फाउंडेशन, सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत आसपास के 15 ग्रामों में शिक्षा, स्वास्थ्य और आजीविका के लिए विभिन्न कार्यक्रम चलाता है | जिसके अंतर्गत गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने हेतु नवोदय कोचिंग केंद्र का संचालन विगत 10 वर्षो से किया जा रहा है | गत 2 वर्षों से कोरोना महामारी के दौर में भी कोचिंग केंद्र के शिक्षकों ने ऑनलाइन शिक्षा के साथ-साथ बच्चों के घर जाकर पढ़ाई सुनिश्चित कराया है | वर्ष 2011 से अब तक इस कोचिंग के कुल 47 बच्चों का चयन नवोदय विद्यालय के लिए हो चुका है | नवोदय विद्यालय समूह केंद्र सरकार के सीबीएसई पाठ्यक्रम पर आधारित आवासीय स्कूल है जहाँ 6 ठी से 12 वीं कक्षा तक के बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के साथ-साथ, खाने-पीने, रहने, पढ़ने की सामग्री और स्कूल ड्रेस जैसी बुनियादी आवश्यकताएं निःशुल्क उपलब्ध कराई जाती है |

 

उल्लेखनीय है कि अदाणी फाउंडेशन के नवोदय कोचिंग में बच्चों को प्रवेश स्क्रीन टेस्ट में पास होने के उपरान्त हीं दिया जाता है | इस वर्ष परियोजना प्रभावित ग्रामों से कुल 52 बच्चों ने नवोदय के कोचिंग केंद्र में पढाई की | खास बात यह है कि ऐसे बच्चे जिनका चयन नवोदय विद्यालय में नहीं हो पाता है, उन्होंने भी अपने आगे की कक्षाओं में अच्छा प्रदर्शन किया है।

 

अदाणी फाउंडेशन के बारे में :

 

1996 में स्थापित, अदाणी फाउंडेशन वर्तमान में 18 राज्यों में सक्रिय है, जिसमें देश भर के 2250 गाँव और कस्बे शामिल हैं। फाउंडेशन के पास प्रोफेशनल लोगों की टीम है, जो नवाचार, जन भागीदारी और सहयोग की भावना के साथ काम करती है। वार्षिक रूप से 3.2 मिलियन से अधिक लोगों के जीवन को प्रभावित करते हुए अदाणी फाउंडेशन चार प्रमुख क्षेत्रों- शिक्षा, सामुदायिक स्वास्थ्य, सतत आजीविका विकास और बुनियादी ढा़ंचे के विकास, पर ध्यान केंद्रित करने के साथ सामाजिक पूंजी बनाने की दिशा में काम करता है। अदाणी फाउंडेशन ग्रामीण और शहरी समुदायों के समावेशी विकास और टिकाऊ प्रगति के लिए कार्य करता है, और इस तरह, राष्ट्र-निर्माण में अपना योगदान देता है।