अदाणी फाउंडेशन ने ग्राम करवाही में मनाया “विश्व खाद्य दिवस”

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

 

रायगढ़, 19.10 2021: अदाणी फाउंडेशन द्वारा ग्राम करवाही में ”विश्व खाद्य दिवस” के अवसर पर खाद्य सुरक्षा से जुड़े जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिसके अंतर्गत फाउंडेशन की सुपोषण परियोजना के द्वारा लोगों को खाद्य सामग्री के संरक्षण व संरक्षित खाद्य पदार्थ के सही उपयोग पर ध्यान केंद्रित करने के बारे में बताया गया। इस मौके पर खाद्य पदार्थों के सम्बन्ध में कृषि और खाद्य संगठन के अनुसार बेहतर उत्पादन, पोषण और बेहतर जीवन के संबंध में चर्चा की गई। किशोरी बालिकाओं द्वारा खाद्य पदार्थ के अवयवों पर आधारित लघु नाटिका का प्रदर्शन करते हुए लोगों को खाद्य पदार्थ के दुरूपयोग को रोकने के लिए प्रेरित किया गया। इस क्रम में सुपोषण संगीनी लोकेश्वरी सिदार ने संरक्षित खाद्य पदार्थ व पौष्टिक भोजन के थाल का प्रदर्शन कर मौसमी खाद्य पदार्थ को संरक्षित करने के तरीके व उसके उपयोग के संबंध में महत्वपूर्ण जानकारी दी। हर व्यक्ति के लिए भोजन में पोषक तत्वों का मिलना ज़रूरी है ताकि वो स्वस्थ रह सकें। कुपोषण के कारण हर वर्ष हजारों लोगों को अपनी जान गंवाना पड़ता है। कुपोषण के मामले तेजी से बढ़ते जा रहे हैं और इसे जागरूकता के माध्यम से हीं दूर कर सकते हैं। यही वजह है कि वर्ष 1981 से हर साल दुनियाभर के 150 से अधिक देशों में कई संगठनों द्वारा विश्व खाद्य दिवस 16 अक्टूबर को मनाया जाता है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के तौर पर उपस्थित श्रीमती संतोषी डनसेना ने लोगों से भोज्य पदार्थो के उचित उपयोग के साथ साथ अनावश्यक भोजन की बर्बादी रोकने की अपील की। इस मौके पर ग्राम पंचायत खम्हरिया की सरपंच श्रीमती बल्लभी राठिया, उपसरपंच श्रीमती सुनिता चौधरी व बड़ी संख्या में मितानीन दीदी, आंगनबाडी कार्यकर्ता, स्वसहायता समूह के सदस्य, किशोरी बालिकाएं तथा महिलाओं की सक्रिय भागीदारी देखी गई।