संभाग स्तरीय नेशनल ट्रायबल डांस फेस्टिवल में आदिवासी कलाकारों ने दी रंगारग प्रस्तुतियां

रायपुर, 20 अक्टूबर 2021जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

महिला एवं बाल विकास विभाग की संसदीय सचिव श्रीमती रश्मि सिंह ने बिलासपुर

महिला एवं बाल विकास विभाग की संसदीय सचिव श्रीमती रश्मि सिंह ने बिलासपुर में आज संभाग स्तरीय नेशनल ट्रायबल डांस फेस्टिवल का उद्घाटन किया गया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ के इतिहास एवं संस्कृति में आदिवासी समाज का महत्वपूर्ण योगदान है। राज्य सरकार आदिवासी नृत्य महोत्सव के माध्यम से राज्य की प्राचीन संस्कृति से देश-दुनिया का परिचय कराने के साथ उसे विश्व पटल पर स्थापित करने का प्रयास कर रही है।

 

आदिवासी विकास विभाग द्वारा अनुसूचित जाति एवं जनजाति छात्रावास परिसर जरहाभाटा में आयोजित एक दिवसीय कार्यक्रम में संभाग के विभिन्न जिलों के 16 नर्तक दलों ने भाग लिया। इन दलों में 463 कालाकारों ने रंग बिरंगे पारम्परिक वेशभूषा के साथ आकर्षक नृत्य प्रस्तुत किये। इन नर्तक दलों द्वारा पारम्परिक डंडा नृत्य, विवाह एवं फसल कटाई के दौरान किये जाने वाले नृत्य, गेड़ी नृत्य, बार नृत्य, बैंगा जनजाति के विवाह उत्सव में किया जाने वाला नृत्य, करमा नृत्य एवं पारम्परिक त्यौहारों के दौरान किये जाने वाले नृत्य एवं देवार लोकगीतों की प्रस्तुति दी गई। जिसका अतिथियों एवं दर्शकों ने आनंद उठाया। इस प्रतियोगिता में विजेता दलों को राज्य स्तरीय नेशनल ट्रायबल डांस फेस्टिवल में भाग लेने का मौका मिलेगा।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए छ.ग. पर्यटन मंडल के अध्यक्ष श्री अटल श्रीवास्तव ने कहा कि आदिवासी समाज की संस्कृति अक्षुण्ण रही है। राज्य सरकार द्वारा आदिवासी कला एवं संस्कृति को बढ़ावा दिया जा रहा है। जिससे छत्तीसगढ़ की पहचान बनी है। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में यह आयोजन भव्य स्तर पर किया जाएगा और इस आयोजन के लिए  आदिवासी समाज के प्रतिनिधियों के सुझाव भी लिये जाएंगे। महापौर श्री रामशरण यादव ने कहा कि आदिवासी समाज की बहुत सी परम्पराएं है, जिससे सामान्य वर्ग परिचित नहीं है इसलिए जब भी इस तरह के आयेाजन हो तो आदिवासी समाज के प्रतिनिधियों से भी सुझाव लिया जाए, जिसका लाभ सभी को मिलेगा।
इस अवसर पर नगर निगम के सभापति श्री शेख नजरूद्दीन, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष श्री प्रमोद नायक एवं अन्य जनप्रतिनिधि, सर्व आदिवासी समाज के जिला अध्यक्ष श्री आर.सी. श्याम, सर्व आदिवासी महिला समाज की प्रदेश अध्यक्ष श्रीमती वंदना उईके, कंवर समाज की महिला अध्यक्ष श्रीमती कविता साय, उरांव समाज की महिला अध्यक्ष श्रीमती रंगिया प्रधान सहित समाज के प्रमुख पदाधिकारी तथा दर्शक बड़ी संख्या में उपस्थित थे।