संविधान अपने स्वरूप में सभी को स्वीकार कर लेती है : मिश्रा

Jiwrakhan lal Ushare cggrameen nëws

रायपुर । 26 नवंबर संविधान दिवस के अवसर पर सौ कुसुम ताई विधि महाविद्यालय में कार्यक्रम आयोजित किया गया । इस अवसर पर व्यवहार न्यायधीश-सचिव जिला विधि प्राधिकरण प्रवीण मिश्रा जी बतौर मुख्य अतिथि शामिल हुआ। इस अवसर पर मुख्य अतिथि प्रवीण मिश्रा ने कहा कि संविधान अपने स्वरूप में सभी को स्वीकार कर लेती है और इसी के प्रस्तावना स्वरूप में होकर भी भारत देश के सभी व्यक्तियों को और नागरिकों के अधिकारों को सुरक्षित कर अपने अंदर सम्मिलित कर लेती है। इस दौरान कार्यक्रम अधिकारी प्रोफेसर श्रीमती डॉ. प्रीति सतपथी मैम ने बताया है कि संविधान दिवस के अवसर पर दो दिवसीय कार्यक्रम में चित्रकला प्रतियोगिता , नाट्य , भाषण आदि आयोजित किया गया था। चित्रकला प्रतियोगिता में प्रथम बी तनुश्री 3 सेमेस्टर, द्वितीय किरण साहू 5 सेमेस्टर, तृतीया स्वाति सिंह भदौरिया , इसी प्रकार भाषण प्रतियोगिता आयोजित की गई थी। कार्यक्रम के दौरान प्रतिभागियों को सचिव महोदय के द्वारा प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया।
इस अवसर पर प्रोफेसर श्री राजीव कुमार शुक्ला सर, प्रोफेसर श्री सुधांशु शेखर शुक्ला सर , प्रोफेसर श्री राजकुमार शुक्ला सर, प्रोफेसर श्रीमती डॉ. प्रीति सतपथी मैम, प्रोफेसर शिशिर भंडारकर सर, प्रोफेसर शेखर आमीन सर, प्रोफेसर राजीव शर्मा उपस्थित थे । इस दौरान सभी प्रोफेसर ने अपने आशीर्वचन प्रदान दिए और विधि के छात्र – छात्राओं के उज्जवल भविष्य के लिए आशीर्वाद प्रदान किया ।