तिल्दा और खरोरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में ऑक्सीजन संयंत्र उत्पादन हेतु तैयार

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

*रायपुर, जनवरी 12,2022 :* कोविड के बढ़ते प्रकोप की रोकथाम के लिए जिला प्रशासन की सहायता में अदाणी पॉवर के रायपुर एनेर्जेन लिमिटेड (आरईएल) और अदाणी फाउंडेशन के माध्यम से पिछले दो वर्षों से हर मुमकिन कोशिश में जुटे हुए है। अदाणी पॉवर द्वारा संचालित रायपुर एनेर्जेन और अडाणी फाउंडेशन प्रबंधन ने ऑक्सीजन सिलिंडर की कमी को देखते हुए अपने अंतर्गत आने वाले दो विकास खंडो तिल्दा एवं खरोरा के सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्रों में ऑक्सीजन उत्पादन सयंत्र लगाने का कार्य शुरू किया था जो अब साकार हो गया है। खुशी की बात यह है कि लगभग 1.50 करोड़ की लागत से स्थापित इन दोनों प्लांट से ऑक्सीजन का उत्पादन अब शुरू हो गया है। उक्त दोनों स्वास्थ्य केंद्रों में संयंत्र के लिए अनुकूल जगह और जरुरी तकनीकी व्यवस्था के मुताबिक नई दिल्ली की एक कंपनी से करार कर संयंत्र लगाने का कार्य संपन्न हुआ है।

उल्लेखनीय है कि एक स्वास्थ्य केंद्र में स्थापित किये गए संयंत्र की ऑक्सीजन उत्पादन क्षमता 30 क्यूबिक मीटर प्रति घंटा अर्थात प्रतिदिन करीब 100 नग सिलिंडर के बराबर है। अतः दोनों केंद्रों से प्रतिदिन 200 नग ऑक्सीजन सिलिंडरों के बराबर का गैस का उत्पादन होगा जो की इस संयंत्र से ऑक्सीजन गैस पाइप लाइन के जरिए अस्पताल के वार्डों के मरीजों के बिस्तर तक सीधी ही पहुंचेगी |

पिछले साल कोविड की दूसरी लहर में अदाणी समूह ने बड़े स्तर पर ऑक्सीजन टेंको को विदेश से आयात किया और देश में कई प्लांट भी लगाए थे। इसके अलावा समूह के अदाणी फॉउण्डेशन ने चिकित्सक सहायता, आइसोलेशन सेंटर और मास्क इत्यादि से लाखो लोगो की सहायता की थी। इसी श्रृंखला में अदाणी समूह अपने सीएसआर को आगे बढ़ा रहा है।

रायपुर एनेर्जेन प्रबंधन द्वारा पसामूदायिक स्वास्थ्य केंद्रों तिल्दा तथा खरोरा के दोनों संयत्रों को ऑक्सीजन उत्पादन हेतु तैयार कर दिया गया है | साथ ही भविष्य में इसके संचालन तथा रखरखाव का उत्तरदायित्व विकासखंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. श्री ए.के.सिन्हा एवं डॉ. श्रीमती देवधर को क्रमशः बुधवार को हस्तांतरित किया गया | वहीं इसका औपचारिक पत्र रायपुर जिले की मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ श्रीमती मीरा बघेल को रायपुर में सौपा गया । हस्तांतरण की प्रक्रिया के दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी के कार्यालय से श्री मनीष मेजरवार, श्री अभिषेक सिंह तथा श्री गजेंद्र डोंगरे माजूद थे। अदाणी पॉवर के रायपुर एनर्जन से स्टेशन प्रमुख श्री रामभव गट्टू, श्री पृथ्वीराज लाहिड़ी, श्री दीपक सिंह , श्री कनक अग्रवाल तथा अदाणी इंटरप्राइजेज से श्री अमित रॉय चौधरी उपस्थित थे।

गौरतलब है कि अदाणी पॉवर के रायपुर एनेर्जेन द्वारा पहले भी कोविड काल में जरुरत के अनुसार न सिर्फ अपने परिधीय क्षेत्र में स्थित ग्रामों, जनपद और विकासखंडों में सैनिटाइजेशन कराया और मास्क बांटे बल्कि जिला प्रशासन के कोविड केयर केंद्रों में आई.सी.यू मशीनो का भी दान दिया। वहीं भारी मात्रा में राशन, सब्जी , खाद्य तेल भी रायपुर स्मार्ट सिटी तथा तिल्दा जनपद पंचायत को उपलब्ध कराया। रायपुर जिले में कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर का प्रकोप स्पष्ट तौर पर दिखने लगा है। हर दिन कोविड के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ने लगी है। जिले में इस बीमारी की गंभीरता और दूसरी लहर से सीख लेते हुए जिला प्रशासन हर मुमकिन तैयारी में जुट गया है। ऐसे में रायपुर एनेर्जेन लिमिटेड द्वारा लगाया गया दोनों प्लांट से उत्पादित ऑक्सीजन काफी महत्वपूर्ण है जो तिल्दा और खरोरा विकासखंड के ग्राम रायखेड़ा, चिचोली, गैतरा, ताराशिव,तुलसी, मोहरेंगा इत्यादि सहित अनेक ग्रामों के स्थानिको के लिए कोरोना जंग के दौरान और इसके पश्चात भी मददगार साबित होगी।

इस दौरान अपने उदबोधन में डॉ श्रीमती मीरा बघेल ने कहा कि “अदाणी पॉवर के रायपुर एनर्जन द्वारा दान किये हुए ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्रों से कोरोना महामारी की इस तीसरी लहर में निश्चित ही काफी राहत मिलेगी। कुछ महीने पहले तक दोनों शहरों से लोगों को ऑक्सीजन सिलिंडर की तलाश में रायपुर तक भटकना पड़ता था | लेकिन आज दोनों स्वास्थ्य केंद्रों में लगे संयंत्रों से ऑक्सीजन के उत्पादन के बदौलत अब वे आत्मनिर्भर हो गए हैं | रायपुर एनर्जन ने दूसरी लहर के दौरान भी कोविड केन्द्रों के आई सी यू बिस्तरों के जरुरी उपकरण भी हमें दान किया था और आज इस ऑक्सीजन उत्पादन संयंत्रों की भेंट आम जनता के लिए कर रहे हैं | इस नेक पहल के लिए मैं अदाणी पॉवर और रायपुर एनेर्जेन को बहुत बहुत धन्यवाद देती हूँ।”

वहीं जिले के कलेक्टर श्री सौरभ कुमार ने इन संयंत्रों को रायपुर जिले की एक बड़ी उपलब्धि बताते हुए खुशी जाहिर की साथ ही अदाणी पॉवर और रायपुर एनेर्जेन को धन्यवाद देते हुए आगे भी जिला प्रशासन को कोरोना महामारी से लड़ाई में साथ देने की बात कही। यह उल्लेखनीय है की पिछले दिनों अदाणी पॉवर व रायपुर एनर्जन लिमिटेड को कोरोना काल में जिला प्रशासन को विशेष सहयोग के लिए कलेक्टर महोदय ने आभार पत्र देकर सम्मनित भी किया है।

विकासखंड चिकित्सा अधिकारी डॉ. श्री ए.के.सिन्हा एवं डॉ. श्रीमती देवधर ने भी संयंत्रों के लगाने के लिए खुशी जाहिर करते हुए अदाणी प्रबंधन को धन्यवाद दिया |

कार्यक्रम के आखिर में रायपुर एनेर्जेन लिमिटेड के स्टेशन प्रमुख श्री रामभव गट्टू, सहकर्मी श्री दीपक सिंह और कॉर्पोरेट कम्युनिकेशन के साथियों ने अदाणी समूह की सीएसआर नीतियों का जिक्र करते हुए उसकी गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा, स्वास्थ, आजीविका संवर्धन तथा ग्रामीण विकास के बारे में अवगत किया और उन्होंने सभी जनप्रतिनिधियों तथा जिला प्रशासन के प्रति अपना आभार व्यक्त किया |

*अदाणी फाउंडेशन के बारे में:*

1996 में स्थापित, अदाणी फाउंडेशन वर्तमान में 18 राज्यों में सक्रिय है, जिसमें देश भर के 2250 गाँव और कस्बे शामिल हैं। फाउंडेशन के पास प्रोफेशनल लोगों की टीम है, जो नवाचार, जन भागीदारी और सहयोग की भावना के साथ काम करती है। वार्षिक रूप से 3.2 मिलियन से अधिक लोगों के जीवन को प्रभावित करते हुए अदाणी फाउंडेशन चार प्रमुख क्षेत्रों- शिक्षा, सामुदायिक स्वास्थ्य, सतत आजीविका विकास और बुनियादी ढा़ंचे के विकास, पर ध्यान केंद्रित करने के साथ सामाजिक पूंजी बनाने की दिशा में काम करता है। अदाणी फाउंडेशन ग्रामीण और शहरी समुदायों के समावेशी विकास और टिकाऊ प्रगति के लिए कार्य करता है, और इस तरह, राष्ट्र-निर्माण में अपना योगदान देता है।