छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी संयुक्त मोर्चा* ने दीपावली पूर्व लंबित महंगाई भत्ता और एरियर देने की मांग की.

Spread the love

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्यूज़ 

आज दिनांक 27 अक्टूबर, 2023 को छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी संयुक्त मोर्चा के प्रतिनिधिमंडल ने मुख्य सचिव अमिताभ जैन से मंत्रालय स्थित उनके प्रतिकक्ष में भेंट कर प्रदेश के कर्मचारियों/पेंशनरों के लंबित आर्थिक मांगों का निराकरण करने की मांग की।
ध्यातव्य है कि विगत सप्ताह ही केन्द्र सरकार ने अपने कर्मचारियों और पेंशनर्स के लिए 1 जुलाई से 4 प्रतिशत महंगाई भत्ते/राहत में वृद्धि की गई जिसके पश्चात कर्मचारियों/पेंशनर्स के साथ ही कर्मचारी संगठनों की मांग को ध्यान में रखते हुए छत्तीसगढ़ कर्मचारी अधिकारी संयुक्त मोर्चा का प्रतिनिधिमंडल आज मुख्य सचिव से चर्चा कर पूर्व सरकार की भांति आचार संहिता की स्थिति में चुनाव आयोग से अनुमति लेकर केंद्र के समान जारी 4 प्रतिशत महंगाई भत्ता बढ़ोत्तरी का आदेश जारी करने की मांग की गई। इसी के साथ सातवें वेतनमान के एरियर्स की छठवीं और अंतिम किश्त के भुगतान की मांग भी रखी गई। इस हेतु मोर्चा द्वारा पृथक पृथक ज्ञापन भी सौंपा गया। मोर्चा द्वारा मुख्य सचिव को कर्मचारियों की दीवाली को आनंद और उल्लासमय बनाने हेतु उक्तानुसार पहल करने का अनुरोध किया गया।
जानकारी के अनुसार, मुख्य सचिव से मोर्चा के प्रतिनिधियों की बहुत सकारात्मक और अच्छे माहौल में चर्चा हुई और मुख्य सचिव ने दोनों मांगों को फाइल अनुमति हेतु चुनाव आयोग को प्रेषित करने की सहमति जताई गई है।
गौरतलब है कि वर्तमान में आदर्श आचार संहिता की स्थिति तक मुख्य सचिव ही शासन प्रशासन के मुखिया हैं जो चुनाव आयोग से तालमेल बैठाकर शासन का कार्य संपादित करेंगे।
इस लिहाज से उनके द्वारा चुनाव आयोग को वित्तीय मांगों की फाइल अनुमति हेतु भेजने की सहमति देने से कर्मचारियों/पेंशनर्स की उम्मीदें बढ़ गई हैं।
मुख्य सचिव से भेंट करने हेतु मोर्चा के प्रतिनिधि श्री अनिल शुक्ला, संयोजक, कर्मचारी अधिकारी महासंघ, श्री कमल वर्मा, संयोजक कर्मचारी अधिकारी फेडरेशन, श्री महेन्द्र सिंह राजपूत, अध्यक्ष, छत्तीसगढ़ मंत्रालयीन कर्मचारी संघ एवं संरक्षक श्री तीरथ लाल सेन सहित श्री सुनील बापट शामिल रहे।