अश्वनी गुर्देकर बनाए गए छत्तीसगढ़ फार्मेसी काउंसिल के नए रजिस्ट्रार l

Spread the love

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्यूज़ 
लोक स्वास्थ एवं परिवार कल्याण मंत्रालय छत्तीसगढ़ शासन द्वारा आज आदेश जारी करके अश्वनी गुर्देकर फार्मासिस्ट, डॉक्टर भीमराव अंबेडकर अस्पताल को छत्तीसगढ़ राज्य फार्मेसी काउंसिल का रजिस्ट्रार बना दिया है l अश्वनी गुर्देकर लगभग 25 वर्षों से फार्मेसी के क्षेत्र में छत्तीसगढ़ राज्य में लगातार कार्यरत हैं, उन्होंने भोपाल से डिप्लोमा इन फार्मेसी किया है और कोलंबिया कॉलेज फार्मेसी रायपुर से बी. फार्मेसी (प्रैक्टिस) की डिग्री हासिल की है l वे अंबेडकर अस्पताल के वरिष्ठ फार्मासिस्ट होने के साथ-साथ छत्तीसगढ़ मेडिकल सर्विसेज कॉरपोरेशन लिमिटेड के फाउंडर मेंबर रहे हैं, वहां की तकनीकी टीम के सदस्य रहे हैं और रायपुर ड्रग वेयर हाउस जो रीजनल ड्रग वेयरहाउस है उसके मैनेजर का भी काम 4 साल तक किया है l
अश्विनी गुर्देकर मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के कर्मचारी इतिहास के पहले इकलौते कर्मचारी हैं जो छत्तीसगढ़ राज्य फार्मेसी काउंसिल में निर्वाचित सदस्य के रूप में भी चुने गए थे l वे साल 2017 से 2022 तक छत्तीसगढ़ राज्य फार्मेसी काउंसिल के निर्वाचित सदस्य के रूप में भी कार्य किया है l उन्हें रजिस्ट्रार बनाए जाने से राज्य के सभी डिग्री डिप्लोमा फार्मासिस्टों में हर्ष व्याप्त है, अश्विनी गुर्देकर छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के महामंत्री भी हैं, इसलिए उन्हें कर्मचारी जगत में भी अच्छा खासा पहचाना जाता है l अश्वनी गुर्देकर ने छत्तीसगढ़ फार्मासिस्ट एसोसिएशन बनाकर प्रांताध्यक्ष बनकर सभी शासकीय फार्मासिस्ट का पदनाम फार्मासिस्ट ग्रेड -2 करने उनकी ग्रेड वेतन में दो ग्रेड की वृद्धि करवाने और फार्मासिस्टों को पहचान दिलाने और पहचान बनाने में काफी सराहनीय काम किया है जिसकी जानकारी सतीश पसेरिया प्रदेश सचिव छत्तीसगढ़ प्रदेश स्वास्थ्य कर्मचारी संघ ने दी