एनटीपीसी कोरबा की खास* *पहल,बालिका* *सशक्तिकरण अभियान 2022 का शुभ आरंभ

Spread the love

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

कोरबा एनटीपीसी के सभागार में आयोजित बालिका सशक्तिकरण अभियान 2022 का उदघाटन बुधवार को कोरबा ज़िला पंचायत के सीईओ श्री नूतन कंवर द्वारा किया गया
कोरबा, 18 May 2022: बालिकाओं को सशक्त बनाने एवं उनकी प्रतिभा को निखारने के लिए एनटीपीसी कोरबा द्वारा बालिका सशक्तिकरण अभियान की शुरुआत की गयी। एनटीपीसी सभागार में आयोजित कार्यक्रम का उदघाटन कोरबा ज़िला पंचायत के सीईओ श्री नूतन कंवर द्वारा किया गया। कार्यक्रम में कोरबा ज़िले के ज़िला शिक्षा अधिकारी श्री जीपी भारद्वाज के साथ साथ एनटीपीसी कोरबा से मुख्य महाप्रबंधक श्री पी एम जेना, अन्य महाप्रबंधक गण, श्रीमति राजश्री जेना (अध्यक्ष, मैत्री महिला समिति) एवं हीरो माइंड माइन संस्थान के सदस्य उपस्थित थे।

स्वागत सम्बोधन के पश्चात श्री नूतन कंवर जी एवं अन्य वरिष्ठ अतिथियों ने मिलकर दीप प्रज्वलन कर कार्यक्रम की शुरुआत की।

तत्पश्चात, एनटीपीसी कोरबा के मुख्य महाप्रबंधक श्री पी एम जेना ने बालिका सशक्तिकरण अभियान का संक्षिप्त में परिचय दिया और कहा कि “बालिका सशक्तिकरण अभियान के तहत एनटीपीसी, बालिकाओं के लिए एक माह की आवशीय प्रशिक्षण कार्यक्रम की आयोजन कर रहा है जिसमे पढ़ाई लिखाई के साथ साथ रचनात्मक कार्य जैसे चित्र कला, ड्राइंग एवं पेंटिंग, गायन, नृत्य, अभिनय, योगासन एवं आत्मरक्षा आदि सीखाया जाएगा। इस एक माह व्यापी प्रशिक्षण के उपरांत आखिर में उनका मूल्याकन भी किया जाएगा। बालिका सशक्तिकरण अभियान के द्वारा एनटीपीसी, इन छोटी छोटी बालिकाओं को जीवन में आगे बढ्ने कि कला सीखने के लिए प्रयत्नशील है।”

कार्यक्रम में, मुख्य अतिथि श्री नूतन कंवर ने बालिकाओं को संबोधित करते हुए कहा कि “एनटीपीसी का बालिका सशक्तिकरण अभियान एक सार्थक पहल है एवं बच्चियों की प्रतिभा को निखारने का लक्ष्य रखता है। अपने जीवन की प्रतिकूल परिस्थितियों से उबर कर आगे बढ़ने के अनुभव से मैं परिचित हूँ एवं इन बच्चियों को जीवन में आगे बढ़ने के लिए शुभकामनाएँ देता हूँ”।

एक माह तक चलने वाले बालिका सशक्तिकरण अभियान के तहत बालिकाओं को सशक्त बनाने के साथ ही उन्हे बुनियादी शिक्षा, योग, कला, स्वास्थ्य, कौशल, आत्मरक्षा, फ़ाइन आर्ट्स जैसे विषयों के बारे में जागरूक बनाने का प्रयास किया जा रहा है। इस पहल के माध्यम से एनटीपीसी ने खास तौर पर ग्रामीण क्षेत्रों में फैली रूढ़िवादी अवधारनाओं को दूर करने और बालिका भूर्ण हत्या जैसी समस्याओं के प्रति जागरूकता फैलाने का प्रयास किया है। यह अभियान बालिकाओं के सशक्तिकरण के साथ साथ उनकी प्रतिभा को निखारने का काम भी करता है। इस अभियान के तहत, बच्चों को अपनी प्रतिभा एवं क्षमता दर्शाने का मौका मिलता है।

प्रतिभा निखारने का सुनहरा अवसर: एनटीपीसी कोरबा ने आस पास और ग्रामीण क्षेत्रों के 120 बालिकाओं का नामांकन किया है। इन बालिकाओं को न सिर्फ अकादमिक क्षेत्र में बल्कि योगा, आत्मरक्षा, फाईन आर्ट्स में भी प्रशिक्षण दिया जाएगा। इससे बालिकाओं में रचनात्मक सोच और टीम भावना का विकास होगा। एनटीपीसी यह प्रशिक्षण 18 मई से लेकर 16 जून 2022 तक चलेगा.

35 प्रोजेक्ट लोकेशन्स पर इस पहल को बढ़ाने की है योजना:: एनटीपीसी लिमिटेड परियोजना के आसपास के गांव की बालिकाओं के उत्थान के प्रयासों के तहत कंपनी ने इस साल लगभग 35 प्रोजेक्ट लोकेशन्स पर इस पहल को बढ़ाने की योजना बनाई है।

2018 में NTPC ने शुरू किया था अभियान: एनटीपीसी ने 2018 में बालिका सशक्तिकरण अभियान की शुरूआत की थी। इसके बाद से कंपनी अपनी प्रोजेक्ट लोकेशन्स के आस-पास के समुदायों की बालिकाओं को सशक्त बनाने में महत्वपूर्ण योगदान दे रही है।

*NTPC Korba on a* *mission to empower* *the girl child*

Girl empowerment campaign 2022 organized in Korba NTPC auditorium was inaugurated by Mr. Nutan Kanwar, CEO of Korba district panchayat on Wednesday.

Korba, 18 May 2022: NTPC Korba today inaugurated the month long Girl Empowerment Mission to empower the girl child and hone their talent. The program was organized at NTPC auditorium and was inaugurated by Mr. Nutan Kanwar, CEO, Korba district panchayat. District Education Officer of Korba district Shri GP Bhardwaj along with Chief General Manager from NTPC Korba Shri PM Jena, Smt. Rajshree Jena (President, Maitri Mahila Samiti) and members of Hero Mind Mine Pvt Ltd also graced the program with their presence.

After the welcome address, Shri Nutan Kanwar ji and other senior guests started the program by lighting the lamp.

Thereafter, Shri PM Jena, Chief General Manager, NTPC Korba gave a brief introduction to the girl child empowerment campaign and said that “Under the girl empowerment campaign, NTPC is organizing this month-long program for the girl child, in which along with basic educational topics, creative aspects and soft skills like drawing and painting, singing, dancing, acting, yoga and self-defense etc. will be taught. After this one-month long training, they will also be evaluated at the end. Through the girl empowerment campaign, we aim to teach and empower the girls”.

In the program, Chief Guest Mr. Nutan Kanwar while addressing the girl child said that “The Girl Child Empowerment Campaign of NTPC is a notable initiative and aims at nurturing the talent of the girl child. As I am familiar with overcoming obstacles and hurdles in life and step into success, I wish these little girls, the best.”

NTPC Korba is making continuous efforts in empowering the girl child as well as aiming to make them aware about subjects like basic education, yoga, arts, health, skills, self-defense, fine arts, under the one-month long girl empowerment campaign. Through this initiative, NTPC has attempted to dispel the orthodox concepts especially in rural areas and spread awareness about problems like female feticide. Along with the empowerment of the girl child, this campaign also works to enhance their talent. Under this campaign, children get a chance to showcase their talent and potential.

Golden opportunity to nurture talent: NTPC Korba has enrolled 120 girls from nearby and rural areas. These girls will be given training not only in academic field but also in yoga, self defense, fine arts. This will develop creative thinking and team spirit in the girl child. NTPC This training will run from 18 May to 16 June 2022.

Plans to scale up this initiative at 35 project locations: As part of its efforts to uplift the girl child of the villages peripherin the project, the company plans to scale up this initiative at around 35 project locations this year.

NTPC launched the campaign in 2018: NTPC had launched the girl empowerment campaign in 2018. Since then, the company has been contributing significantly in empowering the girl child from the communities around its project locations.