भाजपा किसान मोर्चा के बयान पर कांग्रेस की प्रतिक्रिया

Spread the love

जलाना है तो मोदी सरकार की किसान विरोधी तीन काला अध्यादेश की प्रतियाँ जलाये, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसानों का कर्ज माफ की धान की कीमत 2500 रु दे रही

मोदी सरकार के किसान विरोधी काला कानून पर लीपापोती करने जुटे भाजपा के तथाकथित किसान नेता

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार ने किसानों का कर्जा माफ किया किया धान की कीमत 2500रु क्विंटल दिये तो भाजपा के पेट में दर्द क्यो हो रहा है

रायपुर/ 20 सितंबर 20 20 जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज भाजपा किसान मोर्चा के बयान पर कांग्रेस ने प्रतिक्रिया व्यक्त की प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मोदी सरकार के द्वारा देशभर के किसानों के विरोध में लाए गए काला कानून पर लीपापोती करने के लिए तथाकथित भाजपा के किसान नेता पूंजीपतियों के एजेंट अब माटी पुत्र किसान हितेषी मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सरकार पर आरोप लगा रहे हैं। जलाना है तो मोदी सरकार की किसान विरोधी तीन काला अध्यादेश की प्रतियाँ जलाये, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार तो किसानों का कर्ज माफ की धान की कीमत 2500 रु दे रही है।किसानों से किए वादा तो रमन सरकार ने पूरा नही किया ना ही अब मोदी सरकार वादा निभा रही है। रमन सिंह ने छत्तीसगढ़ में 2100 रु धान की कीमत और 300 रु बोनस देने का वादा किया था। किसानों को 5 हॉर्स पावर तक का मुफ्त में पंप और बिजली देने का वादा किया था जो वादा पूरा नहीं हुआ। मोदी की सरकार किसानों को स्वामीनाथन कमेटी के सिफारिश के अनुसार लागत मूल्य का डेढ़ गुना समर्थन मूल्य देने का वादा किया था जो अब तक पूरा नही हुआ। सस्ते दरों पर रसायनिक खाद सस्ती डीजल सहित किसानों की आय दोगुनी करने का वादा किया गया था लेकिन काला कानून लाकर कृषि क्षेत्र को पूंजीपतियों के हाथों में गिरवी रखने का काम मोदी सरकार कर रही है। एकात्म परिसर में बैठकर मोदी सरकार के द्वारा लाए गए किसान विरोधी काला कानून का समर्थन करने वाले तथाकथित किसान हितैषी किसानों के बीच में अध्यादेश को लेकर जाएं तब पता चलेगा किसानों में कितना आक्रोश है।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की सरकार किसानों को कर्ज मुक्त किया सिंचाई कर माफ किया, धान की कीमत 2500 रु क्विंटल दे रही है। राजीव गांधी किसान न्याय योजना के माध्यम से धान के मूल्य 2500रुपया की अंतर राशि दिया जा रहा एवं मक्का और गन्ना उत्पादक किसानों को लाभान्वित किया जा रहा हैआने वाले दिनों में दलहन तिलहन और भूमिहीन किसानों को भी लाभान्वित किया जाएगा।तब से किसान विरोधी भाजपा के पेट मे दर्द हो रहा है। मोदी सरकार निरंतर किसान विरोधी कृत्य को पूरा करने में लगी हुई है किसानों के उन्नति पर अवरोध उत्पन्न कर रही है अड़ंगा लगा रही है और छत्तीसगढ़ भाजपा के नेता किसान विरोधी मोदी सरकार के सामने मौन रहकर किसानों पर हो रहे अत्याचार का समर्थन कर रहे हैं।
प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता धनंजय सिंह ठाकुर ने कहा कि रमन भाजपा के15 साल के
शासनकाल में किसान कर्ज के बोझ तले दबे रहे किसानों को उनकी उपज का सही कीमत नहीं मिला किसान आत्महत्या कर रहे थे तब कहां थे भाजपा के तथाकथित किसान हितैषी ? किस बिल में मुंह छिपाये बैठे थे? भाजपा के किसान नेता किस आधार पर मोदी सरकार के किसान विरोधी काला कानून का समर्थन कर रहे हैं जब देशभर के किसान इस काला कानून के खिलाफ सदन से लेकर सड़क तक मे विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। जब मोदी सरकार के सहयोगी दल के मंत्री ही किसान विरोधी काला कानून के खिलाफ इस्तीफा देकर सरकार को आईना दिखा रहे हैं।किसानों के नाम से योजना बनाकर भाजपा पूंजीपतियों को लाभ पहुंचाती है।

धनंजय सिंह ठाकुर
प्रवक्ता
छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस कमेटी