9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस एवं 11 अगस्त को राष्ट्रीय भोजली

Spread the love

जिवराखन लाल उसारे छत्तीसगढ़ ग्रामीण न्युज

दिनांक 24 जुलाई 2022 को गोंडवाना भवन टिकरापारा रायपुर में परम्  श्रद्धेय गोंडवाना गुरूदेव जी के सानिध्य में गोंडी धर्म संस्कृति संरक्षण समिति एवं छत्तीसगढ़ गोंडवाना संघ युवा प्रकोष्ट मध्यप्रदेश, छत्तीसगढ़ की संयुक्त बैठक आयोजित हुई। जिसमें सामाजिक उद्देश्य की पूर्ति व समाज में युवा नेतृत्व को आगे लाने के उद्देश्य से प्रांतीय स्तर पर युवा प्रकोष्ट का गठन करने का निर्णय लिया गया। सर्व सम्मति से प्रांतीय अध्यक्ष  नियुक्त किया गया है।बैठक में 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस एवं 11 अगस्त को राष्ट्रीय भोजली महोत्सव मनाने के संबंध में चर्चा की गई। इस दौरान 9 अगस्त को जिला स्तर विश्व आदिवासी दिवस मनाने, पौधा लगाने, प्रतिभावान छात्र छात्राओं एवं समाज प्रमुखों को सम्मानित करने तथा 11 अगस्त को रायपुर में राष्ट्रीय भोजली मनाने का निर्णय लियागया।1नेताम उक्त बैठक में गोंडी धर्म संस्कृति के सर्व तिरूमाल प्रांतीय अध्यक्ष चन्द्रभान महासचिव आर.के. कुंजाम, प्रांतीय सचिव गजानंद नुरूटी, कोषाध्यक्ष गौकरण, कुंजाम मीडिया प्रभारी अश्वनी छेदैया, डूम्मन ओटी जी तथा युवा प्रकोष्ट से छत्तीसगढ़ से डॉ. दिलीपसिंह पोर्ते, लयो शांता सिदार जी, छाया मरकाम, नेहा मंडावी, अनुराधा कुंजाम,सहित करीब 500 की उपस्थिति रही गोंडी धर्म संस्कृति संरक्षण समितिि एवं एवं छत्तीसगढ़़ गोंडवाना संंघ युवा प्रकोष्ठ का गठन किया गया जिसमें सर्वसम्मति से संरक्षण मनोज मंडावी संयोजक प्रकाश नेताम अध्यक्ष शांता देवी सीधा उपाध्यक्ष दुर्गेश नेताम सचिव सतीश मरकाम अश्वनी क्षेत्रीय सचिव नेहा मंडावी रोशन कुंजाम संगठन सचिव छाया मरकाम कोषाध्यक्ष अनुराधा कुंजाम प्रचारक खुशबू मंडावी युवराज नागेश दिव्या नेताम उर्वश मंडावी शिव टेकन राजेेश मंडावी सदस्य भरत मरकाम दुकालू मंडावी सुखबली सागर सत्यम एवंं छत्तीसगढ़ आदिवासी परिवार उपस्थित थे